क्या सेक्स करने से बढ़ता है वजन?

कोलकाताः आज के समय में लोग सोशल मीडिया पर अपना बहुत सारा समय व्यतीत करते हैं। सोशल मीडिया पर फैली कुछ अफवाहों को भी लोग अब सच मानने लगे हैं। बहुत से लोगों को अब यह भी लगता है कि ज्यादा सेक्स करने से वजन बढ़ता है। यह बात सच है या फिर एक मिथक है, इसको लेकर आज हम बात करेंगे। हालांकि, यह बात सच है कि वजन बढ़ने का जो कनेक्शन है, वह आपके सेक्स हार्मोन से जुड़ा हुआ है। अगर सेक्स हार्मोंस में असंतुलन की स्थिति पैदा हो जाती है तो वजन बढ़ने लगता है। मगर यह भी सच है कि सेक्स करने से तो कैलोरीज बर्न होती है। इसे एक अच्छा वर्कआउट भी कहा गया है। इसलिए यह सच नहीं है कि सेक्स करने से वजन बढ़ता है। लेकिन अगर सेक्स हार्मोन्स के असंतुलित होने से वजन बढ़ता है!
तो आइए जानते हैं ऐसा क्यों होता है?
असंतुलित हार्मोन्स का कारण
लोगों में असंतुलित हार्मोन्स की स्थिति पाई जाती है, तो इसके कई कारण माने जाते हैं। जिनमें से एक कारण है- जेनेटिक। जी हां, अगर आपके पूर्वजों के सेक्स हार्मोन्स भी असंतुलित थे, तो हो सकता है कि आपके सेक्स हार्मोन्स भी असंतुलित हों।
अगर किसी के हार्मोन्स असंतुलित हैं तो जरूरी नहीं है कि हर बार कारण जेनेटिक ही हो, क्योंकि ज्यादातर इसके कई और कारण भी होते हैं। जैसे स्ट्रेस, डायट, लाइफस्टाइल। इसी के साथ एस्ट्रोजन, प्रोजेस्टेरॉन, टेस्टोस्टेरॉन इत्यादि हार्मोंस भी हैं, जो आपके बढ़ते वजन का कारण बन सकते हैं।
आइए जानते हैं कि आखिर इन हार्मोन्स के असंतुलित होने के क्या-क्या लक्षण होते हैं?
जिन लोगों के हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं, उनकी कमर और जांघों के पास फैट जमा होने लगता है। यानी कि अगर आपकी कमर और जांघों के पास ज्यादा फैट देख रहे हैं, तो समझ जाइए कि आपके हार्मोन्स असंतुलित हो रहे हैं और आपको इसको ठीक करने की जरूरत है।
महिलाओं में असंतुलित हार्मोन के कई कारण हो सकते हैं। जैसे कि पीरियड्स की डेट आगे पीछे हो जाना। यह संकेत देता है कि आपके हार्मोन असंतुलित हो रहे हैं। इससे आपका फैट बढ़ने लगता है।
इसी के साथ महिलाओं को हॉट फ्लैशेज होना। यह तभी होता है जब हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं। अगर महिलाओं को अचानक से बार-बार गर्मी लगने लगे तो यह समझ लीजिए कि उन्हें हॉट फ्लैशेस है। हॉट फ्लैशेस एंडोक्राइन हार्मोन के असंतुलित हो जाने से होता है।
अगर महिलाओं की वजाइना (योनि) बार-बार ड्राई हो रही है, तो यह भी बड़ा कारण है कि जब आपके हार्मोन्स असंतुलित हो रहे होते हैं।
अगर आपको नींद आने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है या फिर आपको नींद नहीं आती है, तो भी आपके हार्मोन्स असंतुलित हो सकते हैं। इससे आपका फैट भी बढ़ता है।
अगर आपका मूड बार-बार स्विंग हो रहा है, तो भी यह संकेत है कि आपके हार्मोन्स असंतुलित हैं। बहुत से लोगों को एकदम से गुस्सा आ जाता है या फिर एकदम से वह तनाव महसूस करने लगते हैं तो इसे मूड स्विंग कहते हैं।
अगर आप के हार्मोन्स असंतुलित हैं, तो आपकी सेक्स ड्राइव में भी कमी आएगी। साथ ही आपको डिप्रेशन की भी शिकायत है तो आपके हार्मोन्स असंतुलित हो सकते हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

क्या शादी के बाद भी आप करते हैं…

नई दिल्ली : भारतीय समाज में शादी के बाद तो क्या शादी के पहले भी मास्टरबेशन को सहज नहीं माना जाता। यहां मानसिकता यही है आगे पढ़ें »

मोबाइल दुकान में 30 लाख की चोरी, व्यवसायी आतंकित

-45 मिनट तक चली चोरी, पुलिस को नहीं हुई भनक मोबाइल दुकान में 30 लाख की चोरी, व्यवसायी आतंकित -45 मिनट तक चली चोरी, पुलिस को नहीं आगे पढ़ें »

ऊपर