कोरोना काल में अब हो रही है कल्कि अवतार पर चर्चा…

कोलकाता : कोरोना वायरस का संकट लगातार बढ़ता जा रहा है और इससे स्थिति गंभीर बनती जा रही है l साथ ही देश के कई शहरों में तो डर की स्थिति बनी हुई है l कोरोना वायरस की वजह से आए संकट और साथ ही कई प्राकृतिक आपदाओं को देखते हुए बहुत से लोग ये कहते हैं कि अब तो कल्कि का अवतार होने वाला है l कई बुजुर्ग कल्कि अवतार को लेकर अलग अलग कहानियां भी सुना रहे हैं और डर के इस माहौल में कल्कि अवतार की काफी चर्चा की जा रही है l साथ ही लोगों के कल्कि अवतार की वजह से सबकुछ खत्म हो जाने का डर भी है l ऐसे में जानते हैं कि आखिर ये कल्कि अवतार क्या है और क्यों लोग महामारी के दौर में इसकी बात कर रहे हैं और डरे हुए हैंl जानते हैं कल्कि अवतार से जुड़ी कहानियां और किस तरह से ये कंसेप्ट आया है..
* क्या है कल्कि अवतार?
कहा जाता है कि विष्णु का एक अवतार होने वाला है, जिसे हम कल्कि कहते हैं l यह भगवान विष्णु का एक अवतार है, जिसे कलियुग के देवता भी कहा जाता है l कहा जाता है कि कलियुग के अंत में कल्कि का अवतार होगा l कलियुग के अंतिम चरम में कल्कि अवतार पृथ्वी पर आएगा, इसके बाद पाप का विनाश होगा और फिर से नए युग का निर्माण होगा l
* क्यों इस वक्त कर रहे हैं चर्चा?
हिंदू धर्म में चार युग बताए गए हैं, सतयुग, त्रेतायुग, द्वापरयुग और कलियुग l कहा जाता है कि अभी कलियुग चल रहा है और इसके अंत में में कल्कि का अवतार होगा l साथ ही कहा जाता है कि कल्कि का अवतार उस वक्त होगा, जब पृथ्वी पर पाप बढ़ जाएगा और हाहाकार मचने लगेगा l इसके बाद कल्कि का अवतार होगा यानी भगवान विष्णु आएंगे और पापियों का विनाश कर देंगेl इसके बाद कलियुग खत्म होगा और फिर से नए युग की शुरुआत होगी l सीधे शब्दों में कहें तो कलियुग के अंत के साथ ही सबकुछ खत्म हो जाएगा और अभी सबकुछ खत्म होने का वक्त आ गया है l दरअसल, इस बात का भी कई जगह जिक्र है कि चार युग बारी बारी से वापस आते हैं और अब कलियुग की समाप्ति होने वाली है l ये भी मान्यता है कि विष्णु के दस अवतारों का उल्लेख शास्त्रों में मिलता है, जिनमें से उन्होंने अब तक नौ अवतार ले लिया है, लेकिन कलियुग में उनका अंतिम अवतार होना अभी बाकी है l

शेयर करें

मुख्य समाचार

पैरेंट्स ने नहीं दिलाया कुत्ता तो बेटे ने कर ली…

विशाखापट्टनम : एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर आगे पढ़ें »

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

ऊपर