कॉल सेंटर से पैसा वसूलने गये दो फर्जी पत्रकारों को पुलिस ने दबोचा

सिलीगुड़ी : पत्रकार व पत्रकारिता को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ माना गया है, लेकिन कुछ विकृत मानसिकता वाले लोग इस पेशे को धुमिल कर रहे है। पत्रकारिता के नाम को बदनाम कर कुछ लोगों ने इसे धन उगाही का जरिया बना लिया है। ऐसे ही एक गिरोह का भक्तिनगर थाना कि पुलिस ने भांडा फोड़ किया है। सेवक रोड से गुरुवार रात को पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया। आरोप है कि ये दोनों स्थानीय एक कॉल सेंटर में जाकर 45 लाख रूपये की मांग कर रहे थे। इस घटा के बाद कॉल सेंटर प्रबंधन की ओर से भक्तिनगर थाना में एक लिखित शिकायत भी दर्ज करायी गई है। शुक्रवार गिरफ्तार उन दोनों युवक को जलपाईगुड़ी कोर्ट में पेश किया गया।
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुशार गिरफ्तार दोनों युवकों के नाम रोबिन साहा व शायंतन साहा बताया गया है। इनके पास से भक्तिनगर थाना कि पुलिस ने प्रेस लिखे दो आईडी कार्ड भी जब्त किया है। सूत्रों ने ये भी कहा कि ये दोनों किसी सोशल मीडिया पेज में काम करते थे। अपने आप को पत्रकार बताकर लोगों को डराना धमकाना इनका पेशा था। भक्तिनगर थाना कि पुलिस भी आईपीसी की धारा 448, 341, 323, 325, 385, 380, 341 के तहत मामला दर्ज कर घटना की छानबीन शुरू कर दिया है।
शिकायतकर्ता सैयद श्याम हुसैन ने बताया कि ऑटोमोबाइल पार्ट को बेचने के लिए चेकपोस्ट इलाके में उनका एक कॉल सेंटर है। उन्होंने कहा कि गुरुवार रात करीब 10 बजे 12 से 13 युवक उनके कॉल सेंटर में पहुंचे। उनके कॉल सेंटर को गैरकानूनी बताकार उसे बंद करवाने की धमकी देने लगे। उन युवकों ने अपना परिचय मीडिया कर्मी व पत्रकार के रूप में दिया था। केवल इतना ही उन युवकों ने कॉल सेंटर में काम कर रहे लोगों के साथ मारपीट भी किया। कॉल सेंटर को वहां चलाने के लिए आरोपी 45 लाख रूपये की मांग कर बैठे। सैयद श्याम हुसैन ने आगे कहा कि घटना के बाद उनके एक स्टॉफ ललन महतो ने देररात फोन पर उन्हें घटना की तमाम जानकारी दी। अंत तक युवक साढ़े 3 लाख में सौदा करने को राजी हुए। पैसा की डिलीवरी लेने के लिए उन युवकों ने देर रात सैयद व उनके सहकर्मियों को सेवक रोड के एक सिनेमा हॉल के सामने बुलाया। चतुराई दिखाते हुए उन्होंने भी पहले से ही पुलिस को इस घटना की तमाम जानकारी दे दिया था। जैसे ही वे पैसा देने के लिए आरोपियों द्वारा बताये गये निर्धारित स्थान पर पहुंचे। भक्तिनगर थाना कि पुलिस ने उन दोनों को दबोच लिया। सैयद ने कहा कि उस वक्त वहां 7 से 8 युवक थे। लेकिन पुलिस को देखते ही बाकी के सभी युवक मौके से फरार हो गये। इस घटना में देशबंधु पाड़ा निवासी मंटू, लालटू, समिर, बाप्पा राय, परिमल नामक युवक का नाम सामने आया है। सूत्रों ने कहा कि ये सभी युवक भी विभिन्न सोशल मीडिया पेज से जुड़े हुए है। भक्तिनगर थाना कि पुलिस बाकियों की तलाश भी कर रही है।
वहीं सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट क्लब से बात करने पर पदाधिकारियों ने बताया कि इस घटना से उनका तथा उनके क्लब के किसी भी सदस्यों का दूर दूर तक कोई संबंध नहीं है। घटना की निंदा करते हुए सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट क्लब की ओर से बताया गया कि जिन लोगों करो गिरफ्तार किया गया है, घटना में जिन युवकों के नाम सामने आये है। वे क्लब के सदस्य भी नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

यूनिवर्सिटी छात्राओं के वॉशरूम का सीक्रेट वीडियो बनाता था युवक

नई दिल्ली : इंग्लैंड की एक यूनिवर्सिटी में महिलाओं की सीक्रेट वीडियो बनाने वाले शख्स दोयुन किम ने अपना अपराध कबूल लिया है। किम के आगे पढ़ें »

जीत के साथ सानिया की डब्ल्यूटीए सर्किट पर वापसी

दोहा : सानिया मिर्जा ने डब्ल्यूटीए सर्किट में जीत के साथ वापसी की जब उन्होंने और स्लोवाकिया की उनकी जोड़ीदार आंद्रेजा क्लेपैक ने नादिया किचेनोक आगे पढ़ें »

ऊपर