कहीं आपको भी तो नहीं है बेड पर बैठे- बैठे लैपटॉप चलाने की लत!

कोलकाताः कोरोनावायरस की वजह से हमारे काम करने का ट्रेंड का काफी बदल गया है। ज्यादातर ऑफिस का काम वर्क फ्रॉम होम हो गया है। अभी भी कई लोगों को इस नए ट्रेंड में खुद को डालने में दिक्कत हो रही हैं। घर पर काम करने के दौरान हम में से ज्यादातर लोग इस तरह की गलती करते हैं जिसका सीधा असर हमारे फिजिकल और मेंटल हेल्थ पर पड़ता है।

बेड और काउच पर न करें काम

वर्क फ्रॉम होम के दौरान हम घर पर बहुत आराम से काम करते हैं। ज्यादातर लोग बेड या काउच पर आराम से बैठ कर काम करना पसंद करते हैं, जिसका असर हमारे फिजिकल और मेंटल हेल्थ पर पड़ता है। बेड और काउच पर बैठने की वजह से आपका पॉश्चर खराब होता है। इसलिए डेस्क और चेयर पर बैठ कर काम करना चाहिए।

टीम से बात करते रहें

अकेले काम करने की वजह से कम्युनिकेशन कम हो जाता है। साथ ही काम के दौरान एक दूसरे के बीच बातचीत नहीं होने की वजह से गड़बड़ी हो जाती है। टीम के लोगों को टेक्सट मैसेज, ऑडियो और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करते रहना चाहिए। इससे मैनेजर और सह कर्मियों में अच्छा संबंध बना रहता है।

सेहत को नजरअंदाज न करें

ऑफिस में आप अपने डेस्क से कॉन्फ्रेंस हाल और कैफेटेरिया जाता है, लेकिन जब आप घर से काम करते हैं तो आपकी फिजिकल एक्टिविटी कम हो जाती हैं। इस वजह से पीठ दर्द, पैरों में दर्द आदि की समस्या रहती हैं। कई बार काम के दौरान आप लंच भी नहीं खाते हैं। इसलिए वर्क प्रेशर के साथ अपने सेहत पर भी ध्यान दें।

अपनी स्किलस को बढ़ाएं

हालांकि आप चाहें तो काम के साथ-साथ अपनी  कॉमुनिकेशन स्किलस को भी बढ़ा सकते हैं। आप हर रोज नई- नई टेकनिकल एप के बारे में जानकारी लें, ताकि आप स्मार्ट वर्क कर सके।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

क्या आपकी कॉल रिकॉर्ड की जा रही है? पता लगाने के ये हैं तरीके

नई दिल्ली : एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में वॉयस कॉल रिकॉर्ड करना आसान है। कई स्मार्टफोन्स में तो इनबिल्ट कॉल रिकॉर्ड का फीचर दिया जाता है। जिन आगे पढ़ें »

‘चैम्पियंस एंड वेटरंस’ समिति की अध्यक्ष बनीं मैरीकॉम

नयी दिल्ली : छह बार की विश्व चैम्पियन एम सी मैरीकॉम को अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) की ‘चैम्पियंस एंड वेटरंस’ समिति का अध्यक्ष चुना गया। आगे पढ़ें »

ऊपर