कमजोर आंखों की रोशनी तेज करते हैं ये 3 जूस, जानिए सेवन का सही समय

कोलकाता : हम देखते हैं कि अनहेल्दी डाइट और लगातार स्क्रीन के सामने बैठकर काम करने से आंखें कमजोर होने लगती हैं। लिहाजा नजर का पॉवर बढ़ाने के लिए चश्मे का इस्तेमाल करना पड़ता है। अगर आप चश्मा नहीं लगाना चाहते हैं और आंखों की रोशनी को तेज करना चाहते हैं तो ये खबर आपके काम आ सकती है। इसमें हम आपको तीन ऐसी चीजों के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो आंखों का खास ख्याल रखते हैं और रोशनी बढ़ाते हैं। अपनी डाइट में कुछ खास होममेड जूस को शामिल करके आप अपने आंखों को कमजोर होने से बचा सकते हैं। खबर में बताए जा रहे 3 प्रकार के ये होममेड जूस न सिर्फ आपके हेल्थ के लिए लिए अच्छे हैं, बल्कि ये आपकी आंखों की रोशनी को भी तेज करेंगे।
आंखों की रोशनी बढ़ाने वाले जूस
गाजर का जूस
आंखों के लिए गाजर का जूस बेहद लाभकारी है, क्योंकि आंखों की रोशनी के लिए विटामिन ए बहुत जरूरी होता है। गाजर में विटामिन ए अधिक मात्रा में होता है, जो आंखों के रेटिनल हेल्थ को इंप्रूव करने में मदद करता है। अगर आप गाजर के जूस में टमाटर को भी मिलाकर कर पी सकते हैं। इस जूस को आप नाश्ते के वक्त भी पी सकते हैं। इस जूस को नियमित पीने से आंखों से धुंधला दिखाई देने की समस्या धीरे-धीरे कम हो जाएगी।
पालक का जूस
अगर आप आंखों की रोशनी बढ़ाना चाहते हैं तो पालक बेहतर विकल्प है। आंखों की सेहत के लिए हरी पत्तेदार सब्जियां लाभदायक होती हैं, खासकर पालक। पालक की सब्जी सेहत के लिए जितनी हेल्दी होती है, उतना ही हेल्दी पालक का जूस भी होता है। अगर आप हर रोज एक गिलास पालक का जूस पिएंगे तो इससे आपकी आंखों की रोशनी धीरे-धीरे बढ़ जाएगी। पालक में विटामिन ए के अलावा विटामिन सी, विटामिन के, मैग्नीशियम, मैगनीज और आयरन पर्याप्त मात्रा में होता है। आप इसे खाली पेट पी सकते हैं।
आंवले का जूस
आंखों की रोशनी बढ़ाने में आंवले का जूस भी मददगार साबित हो सकता है। इसमें विटामिन सी अधिक मात्रा में होता है जो आंखों की रोशनी को बढ़ाने का काम करता है। वैसे तो आप आंवले का इस्तेमाल आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए किसी भी रूप में कर सकते हैं। फिर चाहे वह कच्चा आंवला हो या फिर जूस के रूप में।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गापूजा के रंग में बारिश ने डाला भंग

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि आज षष्ठी के साथ ही महानगर में बारिश की शुरुआत हो गयी है। मालूम आगे पढ़ें »

‘नीतीश या लालू नहीं… इस बार बिहार की जनता चाहती है बदलाव’

बिहार : बिहार में वैकल्पिक राजनीति की बात करने वाले प्रशांत किशोर 2 अक्टूबर गांधी जयंती से बिहार में प्रदेशव्यापी जन सूरज पदयात्रा शुरू करने आगे पढ़ें »

ऊपर