ओवैसी के शपथ ग्रहण में लगे जय श्रीराम के नारे

नई दिल्ली : संसद में मंगलवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के लोकसभा में शपथ ग्रहण के दौरान सांसदों ने ‘जय श्रीराम’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाए। मालूम हो कि ओवैसी हैदराबाद से चुनाव जीतकर संसद पहुंचे हैं।
ओवैसी ने उर्दू में ली शपथ
शपथ ग्रहण के लिए ओवैसी जैसे ही अपनी सीट से उठे वैसे ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कुछ सांसदों ने जय श्री राम और वंदे मातरम का नारा लगाना शुरू कर दिया। हालांकि ओवैसी ने इसपर कोई प्रतिक्रिया न देते हुए मुस्कुराकर हाथों से इशारा किया। उन्होंने उर्दू में शपथ लेने के बाद जय भीम और अल्लाह-हू-अकबर का नारा लगाया। मालूम हो कि 17 वीं लोकसभा के पहले सत्र में नए सांसदों को सदन के सदस्यता की शपथ दिलाई जा रही है।
मुझे देखकर याद आते हैं राम
हैदराबाद से लगातार चौथी बार संसद पहुंचे ओवैसी ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि मुझे देखकर ही बीजेपी के लोगों को जय श्रीराम की याद आती है। आगे उन्होंने कहा कि अगर ऐसा है तो अच्छी बात है, मुझे भी इससे कोई आपत्ति नहीं है। हालांकि ओवैसी ने तंज के लहजे में यह भी कहा कि अफसोस है कि उन्हें बिहार में हुए बच्चों की मौत याद नहीं आई।
शपथ के बाद हस्ताक्षर करना भूले
संसद के इस सत्र में ऐसा नहीं है की पहली बार जय श्री राम और वंदे मातरम के नारे लगे हों सोमवार को स्मृति ईरानी और तृणमूल कांग्रेस सांसदों के शपथग्रहण के दौरान भी बीजेपी के सांसदों ने यह नारे लगाए थे। शपथ लेने के बाद ओवैसी हस्ताक्षर करना भूल गए। इसके बाद अधिकारी ने उन्हें बुलाकर हस्ताक्षर करवाए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी सोमवार को शपथ के बाद अपना हस्ताक्षर करना भूल गए थे।

गौरतलब है कि 17वीं लोकसभा के पहले संसद सत्र में पिछले 2 दिनों से चल रहे शपथ ग्रहण के दौरान कई सांसदों ने संस्कृत, पंजाबी और अन्य भारतीय भाषाओं में सदन की सदस्यता की शपथ ली है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अंग्रेजी में शपथ ली थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोनम वांगचुक के चीनी उत्पादों के बहिष्कार अभियान को व्यापारियों का मिला समर्थन

नई दिल्ली : कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि देश के सात करोड़ व्यापारी लद्दाख के शैक्षिक सुधारक सोनम वांगचुक के आगे पढ़ें »

पूर्व पाक कप्तान हनीफ का दावा, 1983 में हॉकी टीम के सदस्‍य तस्‍करी में लिप्‍त थे 

कराची : पाकिस्तान के पूर्व हॉकी कप्तान हनीफ खान ने आरोप लगाया कि 1983 में हांगकांग से वापस आते समय उनकी टीम के कुछ खिलाड़ियों आगे पढ़ें »

ऊपर