ई मित्र केंद्र के संचालक से 4 लाख की ठगी

अपराध

श्रीगंगानगर : राजस्थान में श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़ में एक ई-मित्र केंद्र के संचालक से चार लाख की ऑनलाइन ठगी करने का मामला शुक्रवार को उजागर हुआ।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि ई-मित्र केंद्र के संचालक धर्मेंद्र सिंघल ने सूरतगढ़ सिटी थाना में मामला दर्ज करवाते हुए बताया कि पंजाब में मोहाली के निवासी रोहित सिंह ने सितम्बर 2019 में उसे एक एग्रीमेंट भेजा, जिसे उसने स्वीकार कर लिया। इस एग्रीमेंट के अनुसार ई-मित्र से पेमेंट ट्रांसफर करने के वाउचर कार्ड उसे उपलब्ध करवाए जाएंगे। पेमेंट ट्रांसफर होने पर इसका उसे कमीशन मिलेगा। धर्मेंद्र सिंघल के अनुसार रोहित सिंह ने लगभग 15 दिन तक उसे वाउचर कार्ड उपलब्ध करवाएं। वह उसके अकाउंट में रोजाना पैसे जमा करवाता रहा। रोहित उसे वाउचर कार्ड उपलब्ध करवाता रहा। करीब 15 दिन बाद रोहित सिंह के अकाउंट में उसने चार लाख रुपये जमा करवाए। इसके बाद रोहित सिंह ने उसे वाउचर कार्ड नहीं भेजें। रोहित ने उसका मोबाइल फोन अटेंड करना बंद कर दिया। ई-मेल का भी कोई जवाब नहीं दिया। कुछ दिन बाद उसने मोहाली में बताए गए कार्यालय के पते पर जाकर पता किया तो जानकारी मिली कि उसका कार्यालय बंद हुए कई दिन हो गए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

राजस्थान में बदला मौसम

जयपुर : राजस्थान में न्यूनतम तापमान में गिरावट होने से एक बार फिर सर्दी का असर बढ़ गया है।
मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान सबसे कम 3.2 डिग्री सेल्सियस तापमान चूरू में रेकॉर्ड किया गया। इसके अलावा डबोक में 4.7, सीकर में 5.0, पिलानी में 5.3, बीकानेर में 6.0, एरनपुरा रोड में 6.4, अजमेर में 7.4 और जोधपुर में 7.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। सूत्रों के अनुसार शनिवार तक के मौसम के बारे में अनुमान है कि राज्य में मौसम मुख्यत: शुष्क रहेगा तथा न्यूनतम तापमान में विशेष परिवर्तन नहीं होगा।

अजमेर शरीफ में सीएए के खिलाफ निकाली ‘वाहन रैली’
अजमेर : राजस्थान में अजमेर शरीफ में शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद सीएए-एनआरसी और एनपीआर विरोधी संघर्ष समिति ने खानपुरा जामा मस्जिद से ‘संविधान बचाओ, देश बचाओ वाहन रैली’ निकाली।
जुम्मे की नमाज के बाद लगातार सातवीं बार सड़कों पर आई संघर्ष समिति की वाहन रैली खानपुरा मस्जिद से सुभाष नगर, रामगंज चुंगी, राजकीय महाविद्यालय, केसरगंज, मदार गेट, नला बाजार, दरगाह के बाहर निजाम गेट, दिल्ली गेट, धानमंडी, आगरा गेट, सूचना केंद्र होती हुई जिलाधीशा के कार्यालय पहुंची, जहां जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा को राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन देते हुए नागरिकता संशोधन कानून को काला कानून बताते हुए ज्ञापन सौंपा और इसे वापस लिए जाने की मांग की। संघर्ष समिति के मीडिया प्रभारी मोहम्मद अलीमुद्दीन ने इस कानून को देश को धार्मिक आधार पर बांटने वाला बताया और फिर दोहराया कि कानून वापस नहीं लेने तक आंदोलन जारी रहेगा। वाहन रैली को राजस्थान मुस्लिम महासभा का भी समर्थन मिला। जिलाध्यक्ष शाहनवाज बेग की अगुवाई में महासभा से जुड़े सभी लोगों ने वाहन रैली में भाग लिया। रैली में मुस्लिम युवक झंडे, बैनर, तख्तियां लिए वाहनों पर सवार थे और सरकार विरोधी नारे लगाते हुए कानून वापस लिए जाने की मांग कर रहे थे।

जयपुर में भारत-तिब्बत सहयोग मंच की बैठक शनिवार से
जयपुर : भारत-तिब्बत सहयोग मंच की दो दिवसीय राष्ट्रीय चिंतन बैठक राजस्थान में जयपुर के अरिहंत वाटिका में 25 और 26 जनवरी को होगी।
मंच के राष्ट्रीय महामंत्री पंकज गोयल ने शुक्रवार को बताया कि 25 जनवरी को होने वाली बैठक को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक एवं मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार संबोधित करेंगे। उन्होंने बताया कि बैठक में देश के सभी राज्यों के करीब 150 से अधिक कार्यकर्ता शामिल होंगे। इसके अलावा तिब्बत सरकार की पूर्व गृहमंत्री गेयरी डोलमा, मंच के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हरजीत सिंह ग्रेवाल, मंच संरक्षा एवं केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. कुलदीप चंद्र अग्निहोत्री, भारत-तिब्बत समन्वय केंद्र भारत के समन्वयक ट्रिस्लुम जीग्मे, अरुणाचल प्रदेश के पूर्व सांसद आर के खिरमे सहित अन्य वरिष्ठ कार्यकर्ता शामिल होंगे। गोयल ने बताया कि 26 जनवरी को इंद्रेश कुमार झंडारोहण करेंगे। 26 जनवरी को ही मंच के कार्यकर्ता अन्य संगठनों के सहयोग से अरिहंत वाटिका से नागरिक संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में पदयात्रा करेंगे। उन्होंने बताया कि भारत-तिब्बत सहयोग मंच का गठन 5 मई 1999 को तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा और पूर्व सरसंघ संचालक कु.सी.सुदर्शन की मौजूदगी में किया गया था। गोयल ने बताया कि मंच के लाखों कार्यकर्ता चीन की विस्तारवादी नीति के विरोध, तिब्बत की आजादी, एक लाख वर्ग किलोमीटर भूमि वापस लेने और कैलाश मानसरोवर को चीन से मुक्त कराने के लिये देशभर में जनजागरण कर रहे हैं।

बालिका दिवस पर निकाली रैली
अजमेर : राजस्थान में अजमेर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की पहल पर शुक्रवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जनजागरूकता के लिये रैली का आयोजन किया गया।
रैली का शुभारंभ स्थानीय पटेल मैदान से जिला कलेक्टर विश्वमोहन शर्मा ने हरी झंडी दिखाकर किया। रैली सूचना केंद्र, चौराहे के रास्ते कचहरी रोड, नगर निगम, पृथ्वीराज मार्ग, महावीर सर्किल, दौलतबाग, बजरंग गढ़ चौराहे से मेडिकल कालेज होते हुए पुन: पटेल मैदान पर संपन्न हुई। रैली में कई विद्यालयों की हजारों बच्चियां हाथों में तख्तियां लेकर ‘बेटी बचाओ’ का संदेश दे रही थीं। रैली में स्कूली बच्चों के अलावा प्रशिक्षण कारागार के जवान और चिकित्सा नर्सिंग स्टाफ का दल भी चल रहा था। रैली में सबसे आगे राजस्थानी परम्परा को निभाते हुए साफा पहने घुड़सवार आकर्षित कर रहे थे।
रैली के समापन पर आमजन को बच्चियों को बचाने एवं संरक्षण देने की शपथ भी दिलाई गई। इस मौके पर प्राधिकरण के सचिव शक्तिप्रताप सिंह शेखावत के अलावा न्यायिक, प्रशासनिक, पुलिस के अधिकारी भी मौजूद रहे। राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर शहर में अन्य कार्यक्रम भी आयोजित किये जा रहे हैं। स्कूली छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

‘मतदाता जागरूकता कार्यक्रम’ का आयोजन
अजमेर : राजस्थान के अजमेर में दो दिवसीय मतदाता जागरूकता कार्यक्रम शुक्रवार से शुरू किया गया।
जिला निर्वाचन अधिकारी विश्व मोहन शर्मा ने जिलाधीश कार्यालय परिसर में इमली के पेड़ के नीचे कर्मचारियों को मत दिए जाने की शपथ दिलाई। इसके अलावा स्थानीय सूचना केंद्र में मतदाता जागरूकता से जुड़े चित्रों एवं नारों की प्रदर्शनी का शुभारंभ किया गया। यह प्रदर्शनी शनिवार को भी जारी रहेगी। इस अवसर पर चुनाव अधिकारी ने कहा कि सभी मतदाता जागरूक होकर निर्भीक रूप से अपने मताधिकार का प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि मत देना मतदाता सूची में जुड़े व्यक्ति का न केवल अधिकार है बल्कि उनका कर्तव्य भी है। गौरतलब है कि राज्य में 10वां ‘राष्ट्रीय मतदाता दिवस समारोह’ शनिवार को मनाया जायेगा।

राजस्थान में बनेंगे 210 नये माध्यमिक परीक्षा केंद्र
अजमेर : राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस वर्ष होने वाली मुख्य परीक्षाओं के लिए राज्य में 210 नये परीक्षा केंद्र सृजित करने का फैसला लिया है।
बोर्ड की सचिव मेघना चौधरी ने शुक्रवार कोयहां बताया कि इस फैसले के बाद बोर्ड की परीक्षाओं के लिए राज्य में 5680 परीक्षा केंद्र गठित हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षा में आने वाले छोटी उम्र के स्कूली छात्र-छात्राओं को परीक्षा केंद्र पहुंचने में कम से कम दूरी तय करनी पड़े। इसके दृष्टिगत प्रत्येक जिले के जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ व्यापक चर्चा, मंथन और उनकी अनुशंसा के बाद बोर्ड प्रबंधन ने नये परीक्षा केंद्र खोलने की स्वीकृति जारी की है। उन्होंने बताया कि खोले जाने वाले नये केंद्रों में सबसे ज्यादा बाड़मेर में 22, जोधपुर में 16, बीकानेर में 15, अलवर में 14, जालोर में 14 परीक्षा केंद्र नये खोले गए हैं। इसके अतिरिक्त अजमेर में 10, दौसा में नौ, झुंझुनूं में आठ, पाली में सात, जयपुर, जैसलमेर, झालावाड़, सीकर, उदयपुर में छह-छह, भीलवाड़ा, नागौर, प्रतापगढ़, हनुमानगढ़ में पांच-पांच, धौलपुर, करौली में चार -चार, टोंक व बूंदी में तीन-तीन, बांसवाड़ा, डूंगरपुर और बांरा में दो-दो, चित्तौड़गढ़, सिरोही, श्रीगंगानगर, राजसमंद जिले में एक-एक नया परीक्षा केंद्र खोला गया है। उन्होंने बताया कि बोर्ड की बारहवीं की मुख्य परीक्षाएं 5 मार्च से तथा दसवीं की परीक्षाएं 12 मार्च से प्रारंभ होंगी। सर्वाधिक परीक्षा केंद्र 556 जयपुर जिले में तथा सबसे कम 178 परीक्षा केंद्र अजमेर जिले में रहेंगे।

चार गुना मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर किसानों का ‘भूमि समाधि सत्याग्रह’
जयपुर : राजस्थान के दौसा जिले में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा अधिग्रहीत की जा रही भूमि का चार गुना मुआवजा देने की मांग को लेकर किसानों का ‘भूमि समाधि सत्याग्रह’ शुक्रवार को दूसरे दिन भी जारी रहा।
दौसा के अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट लोकेश कुमार मीणा ने बताया कि अधिग्रहीत की जा रही भूमि का चार गुना मुआवजे की मांग को लेकर महिलाओं समेत करीब 50-60 किसानों का भूमि समाधि सत्याग्रह आंदोलन शुक्रवार को भी जारी है। उन्होंने बताया कि आंदोलन कर रहे किसानों ने अपनी मांग के संबंध में एक ज्ञापन भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को सौंपा है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के दौसा के महाप्रबंधक वाईबी सिंह ने बताया कि दौसा होकर निकल रहे दिल्ली-वडोदरा एक्सप्रेस हाईवे की भूमि अधिग्रहण का मुआवजा चार गुना करने की मांग को लेकर किसान आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह राष्ट्रीय राजमार्ग गुरुग्राम से अलवर, बसवा, दौसा, लालसोट, सवाईमाधोपुर, कोटा, रतलाम होते हुए वडोदरा तक जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वनडे क्रिकेट में किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी को तैयार : रहाणे

नयी दिल्ली : भारतीय बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा कि उनकी अंतररात्मा की आवाज है कि वह एकदिवसीय प्रारूप में राष्ट्रीय टीम में वापसी करेंगे। आगे पढ़ें »

जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की मदद करती रहेगी सरकार : रीजिजू

नयी दिल्ली : खेलमंत्री किरेन रीजिजू ने शनिवार को कहा कि मंत्रालय जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की आर्थिक मदद करता रहेगा क्योंकि देश के लिये खेलते आगे पढ़ें »

ऊपर