इस पेड़ के पत्तों की चाय पीने से जल्दी नहीं आता है बुढ़ापा

कोलकाता : कस्टर्ड सेब यानी सीताफल या शरीफ जो इन दिनों बाजारों में खूब दिखाई देने लगा है। ये फल बहुत कम समय के लिए आता है जिसके कई स्वस्थ्य लाभ हैं। शरीफा आप में से बहुत से लोगों का पसंदीदा फल होगा जो बाहर से कठोर दिखता है लेकिन अंदर से बहुत मुलायम और गूदेदार होता है। इस फल के हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में तो हम आपको पहले ही जानकारी दे चुके हैं और आज हम आपको इसकी पत्तियों से होने वाले फायदों को लेकर चर्चा कर रहे हैं। जी हां, सीताफल के पेड़ की पत्तियां भी उतनी ही फायदेमंद हैं जितना कि इसका फल। चूंकि ये फल सिर्फ सितंबर और अक्टूबर के बीच बाजार में दिखता है। लेकिन इसके पेड़ के पत्ते हमेशा हरे-भरे रहते हैं जो हमारी सेहत के लिए बहुत लाभकारी है।

सीताफल की पत्तियों को औषधि मानता है आयुर्वेद

इसकी पत्तियों का अक्सर औषधीय प्रयोजनों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। किसी भी समस्या से छुटकारा पाने के लिए शरीफा की पत्तियों को डायरेक्ट स्किन पर लगाया जा सकता है या फिर काढ़ा बनाकर पिया जा सकता है। पत्तियों को उबालकर पीने से कई तरह की समस्याओं से राहत मिल सकती है।

शरीर में शर्करा को नियंत्रित करता है

फाइबर से भरपूर सीताफल की पत्तियां हमारे शरीर में शर्करा के अवशोषण को धीमा करने के लिए जानी जाती हैं और इसलिए वे रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रण में रखने में मदद करती हैं। क्योंकि फाइबर धीरे-धीरे पचता है और समय के साथ ये आपके ब्लड शुगर लेवल में अचानक वृद्धि नहीं करता है। लिहाजा ये डायजेस्ट सिस्टम को बेहतर तरीके से सपोर्ट करता है। अच्छे रिजल्ट के लिए आप इसके 2-3 पत्तों को पानी में उबालें और छानने के बाद हर सुबह पिएं।

एंटी एंजिग के गुणों से भरपूर है सीताफल की पत्तियां

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर पत्ते आपकी त्वचा को सूरज की किरणों से होने वाले नुकसान से बचाते हैं और उम्र बढ़ाने वाली सेल्स को डिले करते हैं। पत्तियों को डेली सुबह पानी में उबालकर पीने से आपकी स्किन हमेशा मुलायम और चमकदार रहेगी। कस्टर्ड सेब के पत्तों से बनी एक हर्बल चाय का सेवन दिन में एक बार किया जा सकता है।

दिल की सेहत के लिए बेहतर हैं पत्तियां

इन पत्तों में उच्च मात्रा में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम हृदय की मांसपेशियों को आराम देने के लिए जाने जाते हैं और इस प्रकार, स्ट्रोक और हृदय रोग के जोखिम को रोकने में मदद करते हैं। साथ ही डॉक्टर कुलकर्णी ये भी बताते हैं कि इसकी हर्बल टी पीने से बॉडी कूल रहती है।

बॉडी स्ट्रेंथ बढ़ाते हैं सीताफल के पत्ते

डॉक्टर के अनुसार, पत्तों को आधा कप पानी में उबालकर रोज सुबह पीने से मेटाबॉलिज्म रेट और एनर्जी लेवल बूस्ट होता है। इसे पीने से आप अधिक ऊर्जावान और शक्तिशाली महसूस करते हैं। साथ ही ये ड्रिंक आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।

घावों को भर देती हैं पत्तियां

शरीफा की पत्तियों का रस घावों को भरने के लिए भी प्रयोग में लिया जा सकता है, क्योंकि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण और अच्छा महसूस कराने के गुण पाए जाते हैं। इसका रस लगाने से घाव वाली जगह दर्द कम हो जाता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापुर अन्नपूर्णा नगर में बमबाजी से हड़कंप

दुर्गापुर: दुर्गापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत अन्नपूर्णा नगर इलाके में शनिवार की रात कुछ अज्ञात लोगों द्वारा बमबाजी करने एवं वाहनों में तोड़फोड़ करने से हड़कंप आगे पढ़ें »

ऊपर