आधी रात के बाद सेक्स… ना …

कोलकाताः सेक्‍स के बारे में कुछ लोग यार-दोस्‍तों से तमाम बातें साझा करते हैं। डॉक्‍टर से सलाह लेते हैं और पारंपरिक धारणाओं पर भी भरोसा करते हैं. कई लोग बातचीत में शास्त्रों का जिक्र करते हुए तरह-तरह की बातें करते हैं। मसलन, किस समय सेक्‍स करना उचित होता है और किस समय अनुचित। इसी कड़ी में कहा जाता है कि आधी रात के बाद सेक्‍स नहीं करना चाहिए. ये सब बातें हम एहतियातन इसलिए करते हैं, ताकि हमारी रोजाना की जिंदगी में इसका कोई गलत प्रभाव न पड़े और हम किसी परेशानी में न पड़ें।

रात को 12 बजने के बाद शारीरिक संबंध क्यों नहीं बनाने चाहिए? हम सब जानते हैं कि आधी रात के बाद दूसरे दिन की शुरुआत हो जाती है और ब्रह्म बेला से ठीक पहले का समय शुरू हो जाता है। उस समय मनुष्य की आध्यात्मिक शक्तियां तथा मानसिक शक्तियां जागृत हो जाती हैं। आधी रात के 1 प्रहर बाद से ब्रह्म मुहूर्त शुरू हो जाता है।

शास्त्रों में कहा गया है कि आधी रात के बाद मनुष्य को अपना ध्यान अध्ययन-मनन तथा भगवान की आराधना में लगाना चाहिए। नई प्‍लानिंग करने के लिए भी यह समय उपयुक्‍त होता है। शास्त्रों में आधी रात के बाद शारीरिक संबंध नहीं बनाने को कहा गया है। इसमें मनुष्य को नुकसान होने की संभावना अधिक रहती है।

शास्त्रों में यह भी कहा गया है कि ब्रह्म मुहूर्त के प्रहर से ठीक पहले यानी भोर के 3 बजे से पहले का समय सबसे उपयुक्त होता है, लेकिन इस समय के बाद शारीरिक संबंध बनाने को शास्त्रों में गलत बताया गया है। आधी रात के बाद नकारात्मक विचार, बहस, वार्तालाप, संभोग, नींद, भोजन, यात्रा, किसी भी प्रकार का शोर आदि से दूर रहना चाहिए। विद्वान मनुष्य को ऐसे लोगों से दूर रहना चाहिए। इस समय संपूर्ण वातावरण शांतिमय और निर्मल होता है और यह भी कहा जाता है कि इस समय देवी-देवता विचरण कर रहे होते हैं।

सन्मार्ग इस खबर की सच्चाई की पुष्टि नहीं करता…

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

57 साल पुरानी हॉकी बॉल आज भी किसी ऑलम्पिक ट्रॉफी से कम नहीं

हावड़ा : लक्ष्मीकांत दास के चेहरे पर आज भी 57 साल पुरानी घटना की चमक नजर आती है। वे कहते हैं कि टोक्यो के कोमाजवा आगे पढ़ें »

ऊपर