आचार्य बालकृष्ण को यूएन में मिला सम्मान, बाबा रामदेव ने कहा- हमें गर्व है

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था यूएनएसडीजी (यूनाइटेड नेशन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल) ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए पतंजलि योगपीठ (ट्रस्ट) से जुड़े आचार्य बालकृष्ण महाराज को सम्मानित किया है। बालकृष्ण को मिले इस सम्मान के लिए बाबा रामदेव ने कहा, हमें गर्व है कि पतंजलि ने वैश्विक स्वास्थ्य के संदर्भ में योग, आयुर्वेद और पारंपरिक भारतीय तरीकों से बीमारियों का इलाज करने के लिए योगदान दिया है। जिसके लिए आचार्य बालकृष्ण को यूएनएसडीजी ने सम्मानित किया। बाबा रामदेव ने अपने सहयोगी आचार्य बालकृष्ण को मिली इस उपलब्धि पर बधाई दी।
स्वास्थ्य क्षेत्र में योगदान के लिए मिला सम्मान
वैश्विक स्वास्थ्य के संदर्भ में योग, आयुर्वेद और पारंपरिक भारतीय तरीकों के साथ जीवन शैली की बीमारियों का इलाज कैसे किया जा सकता है, इसके लिए पतंजलि ने काफी योगदान दिया है, इसलिए आचार्य बालकृष्ण को यूएनएसडीजी द्वारा सम्मानित किया गया। बता दें कि इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए 50 देशों के 500 प्रतिभागी स्विटजरलैंड पहुंचे थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आपके बेटे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा – बाबुल

देवाजंन की मां ने लगायी बाबुल से बेटे को माफ करने की गुहार कोलकाता : सोशल मीडिया पर उनके बेटे की पोस्ट वायरल हुई है जिसमें आगे पढ़ें »

राजीव कुमार की हो सकती है हत्या – सोमेन

कोलकाता : एक ओर जहां कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई दिन - रात ढूंढ रही है तो वहीं इस बीच, प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर