अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद चाबहार परियोजना प्रभावित नहीं होगी : विदेश मंत्रालय

वॉशिंगटन : ईरान से कच्चे तेल के आयात पर अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद चाबहार बंदरगाह परियोजना प्रभावित नहीं होगी। यह बात विदेश मंत्रालय ने कही है। मालूम हो कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान से तेल आयात की पाबंदी से किसी को भी छूट नहीं देने का निर्णय किया है।
दोनों देशों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाना चाहते हैं
विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण में सहायता तथा आर्थिक विकास से लिए मिली छूट जिसमें चाबहार बंदरगाह परियोजना का विकास एवं संचालन शामिल है, वह अलग से छूट है। कल हुई घोषणाओं से इस पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रपति की दक्षिण एशिया रणनीति अफगानिस्तान के विकास के साथ-साथ भारत के साथ हमारी घनिष्ठ भागीदारी को रेखांकित करती है।’’ ट्रंप के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम ईरानी शासन पर अधिकतम दबाव की नीति लागू करने के साथ ही दोनों देशों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाना चाहते हैं।’’

बता दें कि अमेरिका ने पिछले साल नवम्बर में आठ देशों भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ताइवान, तुर्की, इटली तथा यूनान को छह महीने के लिये ईरान से तेल आयात की छूट दी थी।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ईरान से कच्चा तेल आयात करने वाले देशों को प्रतिबंध से मिली छूट समाप्त करने के फैसले का असर भारत और ईरान द्वारा मिलकर विकसित की जा रही चाबहार बंदरगाह परियोजना पर पड़ने की आशंका जाहिर की जा रही थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

dhankhad

सीयू हंगामा : 28 जनवरी ब्लैक डे, शर्म से झुक गया सिर – राज्यपाल

बहुत पीड़ा हो रही है, हिल गया हूं पूरी तरह कर्तव्य पूरा करने से कोई नहीं रोक सकता छात्राओं को खुली बातचीत करने का प्रस्ताव सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

बंगाल में सीएए के खिलाफ अवरोध कर रहे लोगों पर बमबाजी व फायरिंग, 2 मरे

मुर्शिदाबाद के जलंगी की घटना तृणमूल के ब्लॉक अध्यक्ष के खिलाफ एफआईआर सन्मार्ग संवाददाता मुर्शिदाबाद / कोलकाता : देश में पहलीबार सीएए के खिलाफ धरना देने वालों पर आगे पढ़ें »

ऊपर