अपराधियों ने कोरोना योद्धा को भी नहीं बख्‍शा…

– दिनदहाड़े स्कार्पियो सवार बदमाशों ने किया कोरोना योद्धा महिला का अपहरण
आजमगढ़ः महामारी के दौरान अपने घर-परिवार की चिंता किए बगैर अपनी जिंदगी को दांव पर लगाकर लोगों की जान बचाने वाली कोरोना योद्धा भी अब सुरक्षित नहीं है। यहां आजमगढ़ में महिला सुरक्षाकर्मी को भी अपराधियों ने नहीं बख्शा है। दरअसल, भाई के साथ ड्यूटी पर जा रही कोरोना योद्धा का स्कॉर्पियो सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े असलहे के बल पर उठा लिया। जैसे ही घटना की सूचना पुलिस को मिली, वह तत्काल सक्रिय हो गई। आसपास के थानों को भी सूचना दे दी गई। इसका परिणाम रहा कि एक घंटे के अंदर ही महिला स्वास्थ्यकर्मी को तहबरपुर थाना पुलिस ने बरामद कर लिया। पुलिस ने सभी अपहरणकर्ताओं को भी पकड़ लिया। इनसे थाने में पूछताछ चल रही है। घटना का कारण अभी सामने नहीं आ सका है।
क्या है मामला?
कप्तानगंज थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 24 वर्षीय विवाहिता जिला अस्पताल में महिला स्वास्थ्यकर्मी के पद पर तैनात है। रोज की तरह वह मंगलवार की सुबह भाई के साथ बाइक से ड्यूटी जाने के लिए निकली। अभी बाइक सवार भाई-बहन जूनियर हाईस्कूल पासीपुर रसूलपुर के पास ही पहुंचे थे कि एक स्कॉर्पियो सवारों ने उन्हें ओवरटेक कर रोक लिया।
जब तक वे कुछ समझ पाते इसके पहले ही एक बदमाश ने बाइक की चाभी निकाल ली, विरोध करने पर भाई की पिटाई भी शुरू कर दी। इस बीच कुछ ग्रामीण मौके की तरफ आने लगे तो बदमाशों ने असलहा निकाल कर धमकाना शुरू कर दिया। भाई व बदमाशों के बीच छीनाझपटी के दौरान एक बदमाश का तमंचा भी भाई ने छीन लिया।
आठ बदमाशों के सामने भाई की एक न चली
आठ की संख्या में बदमाशों के होने के चलते भाई की एक न चली और बदमाश महिला स्वास्थ्यकर्मी को जबरन स्कार्पियो में बैठा कर भाग निकले। बदमाशों के जाते ही भाई ने कप्तानगंज थाना पुलिस को सूचना दी। अपहरण की सूचना पर कप्तानगंज थाना पुलिस तुरंत सक्रिय हो गई। आसपास के थानों को भी घटना की सूचना दे दी गई। पुलिस की सक्रियता का परिणाम रहा कि एक घंटे के अंदर ही तहबरपुर थाना पुलिस ने अपहरण करने वाली स्कार्पियो को पकड़ लिया। जिससे अपहृत महिला स्वास्थ्यकर्मी बरामद हो गई तो वहीं अपहरण करने वाले बदमाश भी पकड़े गए। इन्हें थाने में लाकर तहबरपुर पुलिस पूछताछ की कवायद में जुटी है। अपहृत हुई महिला स्वासथ्यकर्मी विवाहित है। वह मायके में रह रही है।
महिला स्वास्‍थ्यकर्मी खुल कर बात नहीं कर रही
एसपी ने बताया कि स्कार्पियो सवार लोगों ने महिला स्वास्थ्यकर्मी का सुबह अपहरण किया और पुलिस ने एक घंटे के अंदर ही उसे बरामद भी कर लिया। आरोपी भी पकड़े गए है। अपहरण का कारण क्या है यह पूछताछ में पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। एक आरोपी का कहना है कि उसने महिला से कोर्ट मैरिज की है। वहीं महिला स्वास्थ्यकर्मी भी अभी कुछ स्पष्ट रूप से नहीं बता रही है। पूछताछ पूरी होने के बाद ही स्पष्ट कारण पता चल सकेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टीएमसी को बड़ा झटका, परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी ने दिया पद से इस्तीफा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव अगले साल होने वाले हैं। इससे पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को एक बड़ा झटका लगा है। पार्टी आगे पढ़ें »

पूर्णिमा पर साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें क्या होगा असर?

नई दिल्ली : साल का आखिरी चंद्र ग्रहण 30 नवंबर को है। खास बात ये है कि ये चंद्र ग्रहण इस बार कार्तिक पूर्णिमा के आगे पढ़ें »

ऊपर