यूपी : 15 साल बाद फरार आरोपी गिरफ्तार, गेहूं के लिए की थी हत्या

हरदोई : उत्तर प्रदेश के हरदोई इलाके में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसे सुनकर लोग दंग रह गए हैं। लालच, जमीन, पैसे आदि के लिए मर्डर होना आम बात है पर यूपी में संजीव सिंह नामक युवक ने 25 किलो गेहूं के लिए गांव के निवासी को मौत के घाट उतार दिया। सबसे हैरानी वाली बात तो यह है कि पुलिस ने संजीव को 15 साल बाद गिरफ्तार किया है जिसके उपर 25 हजार रुपए का इनाम भी रखा गया था।

घर और खेत बेचकर हो गया था फरार

स्‍थानीय रिपोर्ट के मुताबिक संजीव ने साल 2005 में हत्या को अंजाम दिया था। पुलिस अधिकारियों को स्वाट टीम और अन्य सूत्रो से खबर मिली थी कि संजीव लोनार कोतवाली इलाके के अपने कोलिया गांव आने वाला है। खबर मिलते ही पुलिस तैनात हो गई थी और मौके का फायदा उठाते हुए संजीव को धर दबोचा। जानकारी के अनुसार संजीव साल 2005 में अदालत से जमानत मिलने के बाद घर और खेत बेचकर भाग गया था।

विवाद के कारण की थी हत्या

गोरतलब है कि संजीव ने 25 किलो गेहूं के लिए अपने ही गांव के निवासी शिवरतन सिंह की हत्या बल्लम घोंपकर की थी। खबरों की माने तो 1998 में बाढ़ की स्थिति में गांव के हर घर को 25 किलाे गेहूं दिया गया था। संजीव पांच भाई थे और बाकियों की तरह ही उसे भी 25 किलो गेहूं मिले थे। संजीव और शिवरतन के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गई थी। बहस ने तूल पकड़ी और इसी दौरान संजीव ने शिवरतन को मौत की घाट उतार दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

liquor

वैशाली में देसी शराब की 40 भट्ठी ध्वस्त, अंग्रेजी शराब बरामद

हाजीपुर : बिहार में वैशाली जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में पुलिस ने छापामारी कर देसी शराब की 40 भट्ठियों को नष्ट करने के साथ आगे पढ़ें »

बिहार में 6437 चिकित्सकों की बहाली 31 मार्च तक हो जाएगी : मंगल पांडेय

पटना : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने राज्य में चिकित्सकों की कमी को स्वीकार करते हुए शुक्रवार को विधानसभा में आश्वस्त किया कि आगे पढ़ें »

ऊपर