प्रियंका गांधी जिस गेस्ट हाउस में रुकी, उसकी बिजली-पानी ही काट दी !

सोनभद्र के पीड़ित परिवारों से मिलकर ही मानीं प्रियंका गांधी

लखनऊ : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ितों से मिलने की जिद पर जिस गेस्टहाउस में धरने पर बैठी थीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने उसके बिजली-पानी ही काट दिए थे। यह आरोप कांग्रेस के निवर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी ने लगाया है। पार्टी के नेताओं ने भी आरोप लगाया कि प्रशासन ने गेस्ट हाउस की बिजली तथा पानी गुल कर दी। इस बात पर कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सत्तारूढ़ मनमाने ढंग से काम कर रही है। हालांकि प्रशासन की ओर से बिजली तथा पानी के गुल हो जाने की बात को खारिज कर दिया गया।

मिर्जापुर के नारायणपुर गांव में रोकने के बाद सड़क पर ही धरने पर बैठ गईं थी प्रियंका गांधी, लेकिन पुलिस ​अधिकारियों ने उन्हें हिरासत में लिया और उन्हें चुनार गेस्ट हाउस ले गए। वापस लौट जाने की अधिकारियों की सलाह न मानते हुए प्रियंका ने चुनार गेस्ट हाउस में ही रात काटी। उनके साथ सैकड़ों समर्थक चुनार गेस्ट हाउस में ही डटे रहे। शनिवार को आखिर 26 घंटे बाद पीड़ितों के साथ उनकी मुलाकात कराई गई, जिसमें वे गले मिलकर रो पड़ीं।
प्रियंका ने गेस्ट हाउस में 26 घंटे काटे

प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार से गेस्ट हाउस में रुकी हुई थीं। उन्होंने शनिवार को कहा कि उन्हें गेस्ट हाउस में 24 घंटे हो गए, लेकिन सरकार के एक भी अधिकारी सोनभद्र नहीं आये। देर रात अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने अपना रुख कुछ लचीला भी किया और पीड़ितों के परिजनों से कहीं भी मुलाकात को तैयार हो गई थी, इसके बाद पीड़ितों से उनकी मुलाकात कराई गई, तब तक उन्हें 26 घंटे हो गए थे।

तृणमूल के सांसदों को हिरासत में लिया गया

सोनभद्र हत्याकांड मामले में शनिवार को तृणमूल कांग्रेस के तीन सांसद और 2 विधायक बनारस एयरपोर्ट पहुंचे। वहां उन्हें जिला प्रशासन ने हिरासत में ले लिया। वे लोग भी सोनभद्र जाना चाहते थे। उस समय एयरपोर्ट पर जिला प्रशासन के उच्चअधिकारी भी मौजूद थे। उन्होंने बताया कि बाहरी नेताओं पर रोक लगाने के आदेश मिले है। इस घटना की पूरी जानकारी प्रशासन ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दी।

प्रियंका ने योगी पर साधा निशाना

सीएम योगी पर निशाना साधते हुए प्रियंका ने कहा कि आखिर राज्य सरकार मुझसे डरी हुई क्यों है? मुझे सोनभ्रद में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने क्यों नहीं दे रही है। राज्य के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य जबाब में कहा कि कांग्रेस का पाप है जो अब देखने को मिल रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने तो हाल ही में कांग्रेस को मात दी है, तो हम क्यों डरेंगे।

प्रियंका ने ट्वीट कर सरकार पर आरोप लगाए

प्रियंका ने देर रात किए गए सिलसिलेवार ट्वीट में बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने वाराणसी जोन के अपर पुलिस महानिदेशक बृजभूषण, वाराणसी के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल और पुलिस उपमहानिरीक्षक को मुझसे यह कहने के लिए भेजा कि मैं यहां पीड़ितों से मिले बगैर वापस चली जाऊं। ना मुझे हिरासत में रखने का आधार बताया गया है और ना ही कोई कागज दिए गए।

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा कि मेरे वकीलों के मुताबिक मेरी गिरफ्तारी हर तरह से गैरकानूनी है। मैंने स्पष्ट कर दिया है कि मैं किसी धारा का उल्लंघन करने नहीं बल्कि पीड़ितों से मिलने आई हूं। मैंने सरकार के दूतों से कहा है कि मैं उनसे मिले बगैर वापस नहीं जाऊंगी। मगर इसके बावजूद उप्र सरकार ने यह तमाशा किया हुआ है। जनता सब देख रही है।

बता दें कि सोनभद्र के घोरावल में 17 जुलाई को दो पक्षों के बीच जमीनी विवाद को लेकर 10 लोगों की गोली लगने से मौत हुई थी। वहीं कुछ लोग घायल हुए थे। घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस हत्‍याकांड मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी ग्राम प्रधान यज्ञदत्त भोर्तिया सहित अन्य 27 लोगों को गिरफ्तार किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हावड़ा का हाल देख सीएम बिफरीं

हावड़ा : हल्की सी बारिश में ही हावड़ा बन जाता है तालाब। बस्ती में रहनेवाले आज भी नरकीय जीवन जी रहे हैं। उत्तर से द​क्षिण आगे पढ़ें »

बड़ाबाजार लाया जा रहा 3.80 करोड़ का 10 किलो सोना सिलीगुड़ी में जब्त, 3 गिरफ्तार

सिलीगुड़ी / कोलकाता : बड़ाबाजार लाया जा रहा 3.80 करोड़ रुपये की कीमत के 10 किलो सोना सिलीगुड़ी में डीआरआई की टीम ने जब्त किया। आगे पढ़ें »

ऊपर