बसपा ने ‘पिस्टल पांडे’ के भाई को बनाया उम्मीदवार

अंबेडकर नगर : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अपने प्रत्याशियों की एक और लिस्ट जारी की है। पार्टी ने लिस्ट में उत्तर प्रदेश की 16 लोकसभा सीटों के लिए प्रत्याशी घोषित किए हैं। नई सूची में बसपा ने अंबेडकर नगर लोकसभा सीट से रितेश पांडे को अपना प्रत्याशी बनाया है। रितेश पांडे, पिछले साल दिल्ली के एक मशहूर होटल में पिस्टल लहराने वाले आशीष पांडे के भाई हैं। रितेश पांडे अंबेडकर नगर की जलालपुर विधानसभा सीट से मौजूदा बसपा के विधायक हैं। उन्होंने 2017 में बसपा की टिकट पर चुनाव जीता था, जिसके बाद अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन्हें लोकसभा चुनाव में उतारने का फैसला किया है। इससे पहले रितेश पांडे अक्टूबर 2018 में चर्चा में आए थे, जब उनके भाई आशीष पांडे ने दिल्ली के एक मशहूर होटल में पिस्टल लहराते हुए एक युवक को धमकी दी थी। इस घटना के बाद आशीष पांडे को पिस्टल पांडे के रूप में काफी सुर्खियां मिली थीं। उस दौरान विधायक रितेश पांडे खुद अपने भाई के बचाव में उतरे थे। उन्होंने मीडिया पर घटना को गलत तरीके से पेश करने का आरोप लगाया था। राजनीति से रितेश पांडे और उनके परिवार का पुराना नाता रहा है। उनके पिता राकेश पांडे बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से सांसद रहे हैं। रितेश के अलावा बसपा ने घोसी से अतुल राय, सलेमपुर से आरएस कुशवाहा, जौनपुर से श्याम सिंह यादव, मछली शहर सुरक्षित श्रीराम, गाजीपुर से अफजाल अंसारी, भदोही से रंगनाथ मिश्रा को बीएसपी ने प्रत्याशी बनाया है। इससे पहले 22 मार्च को बसपा ने उत्तर प्रदेश के अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की थी जिसमें 11 लोकसभा सीटों के प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया गया था। बता दें कि उत्तर प्रदेश में हुए महागठबंधन के तहत बसपा कुल 38 लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस बार खुद लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर