अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में देरी के लिये कांग्रेस जिम्मेदार : मौर्य

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में देरी के लिये कांग्रेस को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि राज्यसभा में बहुमत होने की दशा में भारतीय जनता पार्टी सरकार मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त कर सकती थी। सोमवार को इस समाचार एजेंसी से बातचीत में मौर्य ने कहा कि राम मंदिर प्रकरण उच्चतम न्यायालय में विचाराधीन है और उम्मीद है कि जल्द ही इस विवाद का समाधान हो जायेगा। केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए कटिबद्ध है। राम मंदिर निर्माण तीन तरीके से हो सकता है। पहला उच्चतम न्यायालय के फैसला आने के बाद दूसरा दोनों पक्षों में समझौते के माध्यम से या फिर यह संसद में कानून बनाकर। संतों और देश की जनता का दबाव है कि द्वारिका मंदिर की तरह ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये कानून बनाया जाये लेकिन राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार (राजग) के पास राज्यसभा में बहुमत नही हैं। बिना बहुमत के इस तरह के कानून को पारित नहीं कराया जा सकता। कांग्रेस दोहरा खेल खेल कर राम मंदिर के निर्माण रोड़ा अटका रही है। वह उच्चतम न्यायालय में दिन प्रति दिन सुनवायी के दौरान नये नये मुद्दों को सामने रखकर फैसला आने में देरी करा रही है। कांग्रेस एक वर्ग को खुश करने के लिए सिर्फ राम मंदिर मुद्दे पर राजनीतिक लाभ लेने में रुचि रखती है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट तथा ओबीसी संशोधन विधेयक पर दूसरे दलों का समर्थन मिल गया, लेकिन राम मंदिर पर मिलना काफी मुश्किल है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर