बेटी को जन्म देने पर तीन तलाक कहकर घर से बाहर निकाला

शामली : शामली में एक व्यक्ति ने सिर्फ इस बात पर तीन तलाक कह कर अपनी पत्नी से जिदंगी भर के लिये किनारा कर लिया क्योंकि उसने बेटे की बजाय बेटी को जन्म दिया था। पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि सहारनपुर के गंगोह की रहने वाली गुलिस्ता की शादी करीब डेढ़ वर्ष पूर्व कैराना निवासी शाहिद से हुई थी। विवाहिता के मायके पक्ष का आरोप है कि शादी के बाद से ही शाहिद व उसके परिजन गुलिस्ता को दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। जैसे तैसे गुलिस्ता ससुराल में अपने दिन गुजार रही थी। एक सप्ताह पूर्व गुलिस्ता ने एक लड़की को जन्म दिया। लड़की के जन्म देने के बाद से शाहिद व उसके परिजनों ने गुलिस्ता की जिंदगी नरक बना दी। आये दिन गुलिस्ता के साथ मारपीट करने लगे। शाहिद ने गुलिस्ता को तीन तलाक देकर उसे घर से बाहर निकाल दिया। पीड़िता गुलिस्ता के परिजन उसे लेकर न्याय की आस लिए कैराना कोतवाली पहुंचे मामले की रिपोर्ट दर्ज करायी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

आंखों में आंसू, दिल में गम और गुस्सा : शहीद जवानों को दी गयी अंतिम विदाई

शहीद जवान कौशल कुमार रावत की अंतिम यात्रा में शामिल हुए हजारों लोग आगरा : पुलवामा जिले में आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवान कौशल कुमार रावत की आगरा में एक गांव में शनिवार को अंतिम यात्रा में हजारों लोग शामिल [Read more...]

अमित शाह ने मुख्यमंत्री योगी के साथ लगाई संगम में डुबकी

प्रयागराजः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बुधवार को यहां संगम में डुबकी लगाई। शाह पहली बार कुंभ मेले में पहुंचे हैं। शाह के साथ भाजपा के संगठन महामंत्री रामलाल, प्रदेश भाजपा के [Read more...]

मुख्य समाचार

पुलवामा हमले के मामले में 23 लोग हिरासत में, जैश-ए-मोहम्मद से संबंधों का है शक

नई दिल्लीः कश्मीर में पुलवामा हमले के मामले में सेना ने 23 लोगों को शक के आधार पर हिरासत में लिया है। सुरक्षाबलों को शक है कि इनका संबंध संगठन जैश-ए-मोहम्मद से हो सकता है। बता दें कि 14 फरवरी [Read more...]

पुलवामा अटैक : सिद्धू-अकाली आमने-सामने, पंजाब विधानसभा में उठी सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई की मांग

चंडीगढ़ : अक्‍सर अपने बयानबाजी को लेकर चर्चा में रहने वाले पूर्व क्रिकेटर व पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पुलवामा हमले के बाद अपने बयान को लेकर विवादों में फंस गये है। सिद्धू को भारी आलोचना का सामना [Read more...]

ऊपर