बाइक बोट के मालिक संजय भाटी ने किया अदालत में आत्मसमर्पण

एक साल में रकम दो गुनी करने का झांसा दे निवेशक को लगायी है लगभग 14 अरब की चपत
ग्रेटर नोएडा : बाइक बोट गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड कंपनी के मालिक संजय भाटी ने शुक्रवार को जिला अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। कंपनी के मालिक संजय और उसके साथियों पर दादरी कोतवाली में धोखाधड़ी के 33 केस दर्ज हैं। इन मुकदमों में संजय फरार चल रहा था। पुलिस ने गुरुवार को कंपनी के निदेशक विजयपाल कसाना को गिरफ्तार किया था। धोखाधड़ी के शिकार लोगों ने बाइक बोट कंपनी के मालिक संजय, निदेशक कसाना आदि पर मुकदमा दर्ज करवाया था। लोगों का कहना है कि कंपनी ने बाइक बोट के नाम से स्कीम निकाली जिसमें कहा गया था कि एक बाइक की कीमत के 62,100 रुपये जमा कराने पर एक साल में दो गुना रकम निवेशक को वापस मिलेगी। इस प्रकार कंपनी ने लाखों लोगों को लालच देकर उनके हजारों करोड़ रुपये ठग लिये। पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए नोएडा आर्थिक अपराध शाखा में एक एसआईटी का गठन किया।
एसआईटी की टीम ने कसाना को गिरफ्तार किया था। दबाव बढ़ता देख शुक्रवार को संजय भाटी ने सूरजपुर स्थित एसीजेएम-3 की कोर्ट में आत्मसर्मपण कर दिया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि पुलिस संजय भाटी और कसाना को कोर्ट से रिमांड पर लाकर पूछताछ करेगी। पुलिस कंपनी के खातों की भी जांच कर रही है जिनमें निवेशकों का पैसा जमा किया गया। पुलिस कंपनी के खाते फ्रीज करने की कार्रवाई रही है। पुलिस का अनुमान है कि बाइक बोट ने सात राज्यों के करीब सवा दो लाख लोगों को चपत लगायी है। कंपनी ने इन लोगों से करीब 14 अरब रुपये ठगे हैं। कंपनी ने शुरुआत में निवेशकों का भरोसा जीतने के लिए उनके खाते में किस्त भेजनी शुरू की थी लेकिन बाद में वह बंद कर दी गयी। मेरठ में तीन साल पहले बाइक बोट कंपनी की शुरुआत हुई थी। जिसके पश्चात कंपनी ने दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश तक अपना मायाजाल फैला दिया। नवम्बर-दिसम्बर 2018 को कंपनी ने किस्त देनी बंद की थी। पुलिस अभी ठगी गयी रकम का पूरा आकलन नहीं कर सकी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हुगली में हथियारों सहित कुख्यात टोटन समेत 2 गिरफ्तार

कार्बाइन, पिस्तौल व पाइपगन बरामद, टोटन के खिलाफ हत्या के 9 मामले हुगली : चंदननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हुगली जिले के आगे पढ़ें »

बेटी ने पति के साथ मिल कर मां को मार डाला

बेटी के विलासितापूर्ण जीवन के शौक में मां बन गई थी रोड़ा शव को ट्रॉली बैग में छिपाकर ले जाने की कोशिश पर्णश्री क बासुदेवपुर रोड की आगे पढ़ें »

ऊपर