राज बब्बर ने कहा- प्रियंका गांधी के सवालों से डरती है भाजपा

Raj Babbar

लखनऊ : उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा है कि राज्य की 12 विधानसभा सीटों के लिए होने जा रहे उपचुनाव में उनकी पार्टी सत्तारूढ़ भाजपा को अकेले टक्कर दे सकती है, क्योंकि अन्य विपक्षी पार्टियां डरी हुई हैं। उन्होंने कांग्रेस को उत्तर प्रदेश की जरुरत बताया। अगर भाजपा को किसी नेता से डर है तो वह प्रियंका ही हैं, क्योंकि भाजपा प्रियंका की ओर से उठाए गए किसी भी सवाल का जवाब नहीं दे पा रही है। उन्होंने कहा कि ईमानदारी से देखें तो अगर कोई पार्टी भाजपा से उपचुनाव में लड़ सकती है तो वह केवल कांग्रेस है। बाकी पार्टियां तो घबरायी हुई नजर आ रही हैं। कांग्रेस पूरी गंभीरता से संघर्ष कर रही है और जमीन से जुड़े लोग अब धीरे-धीरे कांग्रेस की तरफ आकर्षित हो रहे हैं।

खराब कानून-व्यवस्था का मुद्दा

बब्बर ने यह बयान हमीरपुर तथा प्रदेश की 11 अन्य विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव के मद्देनजर दिया है। बता दें कि हमीरपुर में 23 सितम्‍बर को जबकि बाकी 11 सीटों पर 21 अक्‍टूबर को उपचुनाव होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस केंद्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के झूठे वादों, प्रदेश की खराब कानून-व्यवस्था, महिलाओं में असुरक्षा की भावना तथा बच्चों के प्रति हो रहे अपराधों को उपचुनाव में मुद्दा बनाएगी।

खुद को जोड़ रहे हैं लोग
प्रियंका का जिक्र करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर भाजपा को किसी नेता से डर है तो वह प्रियंका ही हैं, क्योंकि भाजपा प्रियंका की ओर से उठाए गए किसी भी सवाल का जवाब नहीं दे पा रही है। सबसे अहम बात यह है कि लोग प्रियंका की ओर से उठाये जाने वाले मुद्दों से खुद को जोड़ रहे हैं। बब्बर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मंत्रियों के भारतीय प्रबंधन संस्थान-लखनऊ में आयोजित ‘मंथन’ कार्यक्रम में शामिल होने पर तंज कसते हुए कहा कि किसी भी उम्र में ज्ञान हासिल करना अच्छी बात है लेकिन प्रदेश के लोगों का भाग्य अर्धज्ञानी मंत्रिमंडल के साथ तालमेल बैठाने में लटका हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर