रथयात्रा के दौरान पुरी को ‘उड़ान वर्जित क्षेत्र’ घोषित करने का विचार

भुवनेश्वरः पुरी में 14 जुलाई से शुरू होने वाली भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा को लेकर ओडिशा के डीजीपी आरपी शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार हुई समन्वय बैठक में यह फैसला लिया गया कि उत्सव के दौरान पुरी और उसके आसपास के क्षेत्र को ‘उड़ान वर्जित क्षेत्र’ घोषित करने के लिए ओडिशा पुलिस केंद्र से मंजूरी मांगेगी।
एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘पुरी शहर और उसके आसपास के क्षेत्र को रथयात्रा के दौरान उड़ान वर्जित क्षेत्र घोषित करने के लिए केंद्र से मंजूरी लेने का फैसला किया गया। बीजू पटनायक अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के निदेशक और नागर विमानन निदेशक ने कहा कि वे मामले पर विचार करेंगे।’ इस बैठक में शामिल राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, केंद्र सरकार के अधिकारी और सीआरपीएफ, बीएसएफ, एनएसजी, आरपीएफ, तटरक्षक बल, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण, भारतीय नौसेना तथा आईबी के अधिकारियों ने उत्सव के सुचारू संचालन के लिए सुरक्षा बंदोबस्त से संबंधित कई मुद्दों पर चर्चा की जबकि केंद्रीय एजेंसियों ने भी सहयोग करने की इच्छा जतायी।
उत्सव के दौरान किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए एनसीजी का एक दल पुरी में डेरा डाल सकता है तथा पर्याप्त संख्या में एनडीआरएफ के कर्मियों की भी तैनाती की जाएगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

देश के पहले मोबिलिटी फेस्टिवल में भविष्य के वाहनों की झलक दिखी

नई दिल्ली: भविष्य के व्यापार और वाहनों के लिए देश के पहले मोबिलिटी मिशन फेस्टिवल का पिछले दिनों नई दिल्ली में ईएमपीआई और नीति आयोग आगे पढ़ें »

दिल पर ही नहीं शरीर पर भी होता है रिश्ता टूटने का असर

नई दिल्ली : कभी न कभी जीवन में हर किसी का दिल टूटता है। लेकिन ब्रेकअप का नाता सिर्फ दिल से नहीं है। रिसर्च कहते आगे पढ़ें »

ऊपर