मुसलमान सड़क पर नमाज पढ़ने से करें परहेज- मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

Lucknow, Namaz on the road, Muslim Personal Law Board

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश के कुछ शहरों में सड़क पर नमाज पढ़ने के कारण बिगड़ रहे माहौल को देख कर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मुसलमानों से कहा कि सड़क पर नमाज अदा करने से परहेज किया जाए। कुछ हिंदूवादी संगठनों द्वारा हनुमान चालीसा का पाठ बीच सड़क में करना आरम्‍भ किया गया है जिसके बाद बोर्ड के महासचिव मौलाना वली रहमानी ने रविवार को कहा कि ‘शरीयत के हिसाब से खाली जगह पर नमाज अदा की जा सकती है। खाली जगह पर नमाज पढ़ना जायज है।’
सुनने और पढ़ने वाले लेंगे फैसला
एक हिंदूवादी संगठन ने इस बाबत एक सवाल उठाया ‌था कि सड़क तो कोई खाली जगह नहीं है। इसके जवाब में मौलाना ने कहा कि वह इस विषय में आगे कुछ नहीं कहना चाहते। उनकी बात का मतलब निकालने का काम उन्होंने सुनने और पढ़ने वालों पर छोड़ देने को कहा।
अलीगढ़ में सड़क पर नमाज पढ़ी गई
बता दें कि हाल ही में अलीगढ़ में सड़क पर नमाज पढ़े जाने के विरोध में हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया गया ‌‌था। इसका संज्ञान लेते हुए प्रशासन ने सड़क पर बिना इजाजत के ऐसी गतिविधि पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद हाथरस जिले में हाल ही में हिन्‍दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने हनुमान मंदिर के बाहर सड़क पर ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ किया था। उनका कहना था कि जब सड़क पर नमाज पढ़ी जा सकती है तो हनुमान चालीसा क्‍यों नहीं? उन्होंने यह भी कहा कि अब हर मंगलवार को सड़क पर चालीसा पाठ किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोविड-19 : रीजिजू ने खिलाड़ियों को व्यस्त रखने की पहल की समीक्षा की

नयी दिल्ली : खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कोविड-19 महामारी के कारण 21 दिन के लॉकडाउन (राष्ट्रव्यापी बंद) के मद्देनजर मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण आगे पढ़ें »

प्रतिभा तलाशना मेरा काम था, युवा विराट कोहली में गजब की प्रतिभा थी : वेंगसरकर

नयी दिल्ली : दिलीप वेंगसरकर को प्रतिभाओं को तलाशने के मामले में भारत के सबसे अच्छे चयनकर्ताओं में से एक माना जाता है जिन्होंने पहली आगे पढ़ें »

ऊपर