नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 वर्ष का कठोर कारावास

Situation in the name of a civilian prison, the bail granted to someone else, came out to someone else

सिमडेगा : जिले में नाबालिग बालिका से दुष्कर्म के दोषी को स्थानीय अदालत ने बीस वर्ष का कठोर कारावास एवं दस हजार रूपये जुर्माने की सजा सुनायी है। सिमडेगा के अतिरिक्त जिला न्यायाधीश नीरज कुमार श्रीवास्तव की अदालत ने अभियोजन पक्ष की ओर से पुलिस अधिकारी सुभाष प्रसाद द्वारा प्रस्तुत गवाहों, साक्ष्य, एफएसएल रिपोर्ट आदि के आधार पर आरोपी आकाश कुमार प्रधान को दोषी करार देते हुए सजा सुनाई। अभियोजन पक्ष के अनुसार, पीड़ित के घर पर पिछले वर्ष छह जुलाई की रात विवाह कार्यक्रम के लिए टेंट लगवाया गया था। रात में पीड़ित मिचली आने पर बाहर निकलकर उल्टी कर रही थी। इसी बीच, टेंट लगाने वाला मजदूर आकाश प्रधान उसे बलपूर्वक पास ही में सुनसान जगह पर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़ित की चीख सुनकर कुछ लोग वहां पहुंचे। भागने की कोशिश कर रहे आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़ कर पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। नाबालिग को इलाज हेतु सीएचसी ले जाया गया। अदालत में लगभग 14 माह चली सुनवाई के उपरांत अभियुक्त को सजा सुनायी गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

cango

कांगो में हुए तीन हमलों में 17 लोगों की मौत

बुनिया : कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में हुए तीन जगहों पर जबरदस्त हमले हुए हैं। इन हमलों में 17 लोगों की मौत हो गई। सेना और आगे पढ़ें »

dilip

प‌श्चिम बंगाल में नागरिकता कानून लागू होकर रहेगा, ममता इसे नहीं रोक सकतीं: दिलीप घोष

कोलकाता : पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने नागरिकता कानून को लेकर शुक्रवार को राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर करारा हमला किया। उन्होंने आगे पढ़ें »

ऊपर