माओवादियों से मुठभेड़ में दो जवान शहीद

नक्सली आखिरी लड़ाई लड़ रहे हैं, उनसे नरमी नहीं बरती जायेगी : रघुवर
रांची : रांची में शुक्रवार को तड़के करीब चार बजे माओवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में झारखंड जैगुआर के दो जवान खंजन प्रसाद महतो और अखिलेश राम शहीद हो गये। सुरक्षा बल पूरे क्षेत्र की घेरेबंदी कर माओवादियों की तलाश में जुटे हैं। रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनीस गुप्ता के अनुसार रांची से लगभग 60 किलोमीटर दूर बुंडू में दशम झरने के निकट डोकापीड़ी गांव में बड़ी संख्या में माओवादियों के एकत्रित होने की गुप्त सूचना मिली। वहां विशेष कार्यबल के सदस्यों को भेजा गया, जहां माओवादियों ने झारखंड जैगुआर के जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी। मुठभेड़ में दो जवान घायल हो गये। घाटलों में से एक ने रांची के अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया जबकि दूसरे जवान की मेडिका अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी। यह पूरा इलाका नक्सलियों से ग्रस्त रहा है लेकिन हाल के दिनों में यहां नक्सल घटनाएं नहीं के बराबर हुई थीं।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने घटना पर शोक प्रकट करते हुए कहा है कि इन जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जायेगी। राज्य में नक्सली आखिरी लड़ाई लड़ रहे हैं और उनके खिलाफ सरकार कोई नरमी नहीं बरतेगी। सरकार शहीद जवानों के परिजनों के साथ हमेशा खड़ी रहेगी। इससे पूर्व राज्य के पुलिस महानिदेशक कमलनयन चौबे ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

प्राकृतिक आपदा पर राजनीति न हो – धनखड़

चक्रवात प्रभावित इलाकों के हालात की करेंगे समीक्षा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य सरकार और राज्यपाल के बीच गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी आगे पढ़ें »

9 साल बाद फिर प्रेसिडेंसी में चला ‘लाल’ का जादू

आईसी हुई छात्र संघ की सत्ता से बेदखल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी में 2019 के छात्र संघ चुनाव में 9 साल बाद भारी मतों से आगे पढ़ें »

ऊपर