ठेकेदार हत्याकांड के अभियंताओं को 48 घंटे में गिरफ्तार किया जायेगा:डीजीपी

gupteshwar

गोपालगंज : बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा है कि ठेकेदार की जलकर हुई मौत के मामले में फरार चल रहे जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता मुरलीधर सिंह, अधीक्षण अभियंता दिनेश प्रसाद सिंह और कार्यपालक अभियंता सत्येन्द्र कुमार को 48 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया जायेगा। पांडेय बुधवार देर रात नगर थाना पहुंचे और अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद मृत ठेकेदार रामशंकर सिंह के परिजनों से मुलाकात की। परिजनों से मुलाकात करने के बाद डीजीपी ने कहा कि 48 घंटे के अंदर फरार सभी अभियुक्त जेल की सलाखों में होंगे। डीजीपी ने परिजनों को आश्वस्त किया कि इस मामले में दोषी को किसी भी हाल पर बख्शा नहीं जायेगा। उनकी गिरफ्तारी होगी और पुलिस कड़ी सजा भी दिलवायेगी।

घटना के सात दिन बाद भी कोई गिरफ्तारी नहीं

फरार अभियंताओं में जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता जितेंद्र सिंह, मुख्य अभियंता मुरलीधर सिंह, कार्यपालक अभियंता सत्येंद्र कुमार और मुख्य अभियंता की पत्नी कामिनी सिंह के अलावा चार अन्य अज्ञात अभियुक्तों की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। परिजनों ने कहा कि घटना के सात दिन बाद भी पुलिस एक भी अभियुक्त को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस पर डीजीपी ने कहा कि 48 घंटे का और वक्त पुलिस को दिया जाये। पुलिस फरार अभियंताओं को हर हाल में ढूंढ़ कर गिरफ्तार करेगी। गौरतलब है कि 29 अगस्त 2019 को दिनदहाड़े नगर थाना क्षेत्र के गंडक कॉलोनी स्थित जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता के नव निर्मित आवास पर ठेकेदार रामशंकर सिंह की जलने से मौत हो गयी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जेयू मामले में प्रशासन पूरी तरह से फेल था – राज्यपाल

वीसी ने अपने कर्तव्य नहीं निभाये ‘जो भी किया संविधान के दायरे में किया’ जाने से पहले सीएम से कई बार हुई थी बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जादवपुर आगे पढ़ें »

राजीव को पकड़ने के लिए बंगाल से यूपी तक छापे

राजीव कहां हैं सीबीआई ने पूछा पत्नी से टारगेट पूरा करने के लिए बनाया गया स्पेशल कंट्रोल रूम सीबीआई का अनुमान - जगह बदल-बदल कर रह रहे हैं आगे पढ़ें »

ऊपर