हर तबके और हर इलाके का विकास एकमात्र लक्ष्य : नीतीश कुमार

पूर्णिया : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सरकार का एकमात्र लक्ष्य न्याय के साथ विकास, जिसके तहत हर तबके और हर इलाके का विकास करना है।
नीतीश कुमार ने यहां पूर्णिया जिले के रुपौली प्रखंड स्थित टीकापट्टी में 385 करोड़ 20 लाख रुपये की लागत वाली 473 योजनाओं का रिमोट के माध्यम से उद्घाटन एवं शिलान्यास करने के बाद आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि उनका मकसद है न्याय के साथ विकास, जिसके तहत हर तबके और हर इलाके का विकास करना है। उन्होंने कहा, ‘यहां आकर मुझे काफी खुशी हुई है और आप सबसे हमारा यही आग्रह है कि समाज में आपसी प्रेम, भाईचारा और सद्भाव का माहौल कायम रखें। लोग एक दूसरे का सम्मान करें, तभी समाज आगे बढ़ेगा।’ मुख्यमंत्री ने टीकापट्टी को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा कि यहां साल 1925, 1927 और 1934 में तीन बार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी आये थे। आज हम यहां बापू को जानने और समझने आये हैं। उन्होंने कहा कि टीकापट्टी के जिला शिक्षा प्रशिक्षण संस्थान का नाम महात्मा गांधी के नाम पर किया जाएगा। गांधी सदन परिसर का सौंदर्यीकरण कराने के साथ ही इसमें बापू की आदमकद प्रतिमा स्थापित की जाएगी। गांधी सदन को समाहित करते हुए यहां एक बड़े सामुदायिक केंद, का निर्माण कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने उन्होंने कहा कि टीकापट्टी में बापू पुस्तकालय के अलावा बापू के नाम पर एक संस्थान भी स्थापित किया जाएगा, जहां से बापू से जुड़ी जानकारियां लोग ले सकेंगे। 1917 में चम्पारण सत्याग्रह के दौरान बापू ने चम्पारण के अलावा जिन-जिन इलाकों में बुनियादी विद्यालयों को स्थापित किया था। उन बुनियादी विद्यालयों को रिवाइव करने के साथ ही उनमें शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए उन्हें विकास प्रबंधन संस्थान से लिंक किया गया है। यहां के अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद, का उन्नयन करने के साथ ही 30 बेड के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर का भी निर्माण कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सात निश्चय योजना के तहत जो काम हो रहे हैं, इसकी निगरानी मुख्य सचिव के स्तर से की जा रही है।

दिसंबर तक सबके घर बिजली पहुंचाने का लक्ष्य

हर इच्छुक परिवार तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य दिसंबर 2018 तक निर्धारित किया गया था, जिसे तय समय से दो माह पहले ही पहुंचा दिया गया। अब कृषि फीडर के माध्यम से हर इच्छुक किसानों को बिजली काफी किफायती दर पर मुहैया कराई जा रही है। ऐसे में जो किसान बिजली के लिए जुलाई तक आवेदन कर चुके हैं, उन्हें इस साल जबकि जिन्होने अगस्त महीने के बाद आवेदन दिया है, उन्हें अगले वर्ष तक सिंचाई के लिए बिजली का कनेक्शन उपलब्ध करा दिया जायेगा।
नीतीश कुमार ने कहा कि पूरे बिहार में सरकार ने जो काम किया है, वह बापू के सपनों को पूरा करने के लिए किया गया है। चम्पारण सत्याग्रह के सौवें साल पर 1.5 करोड़ लोगों तक गांधीजी के संदेशों को पहुंचाने के साथ ही स्कूलों में प्रतिदिन कथा वाचन शुरू कराया है ताकि जन-जन तक बापू के विचारों को पहुंचाया जा सके। कथा वाचन के लिए दो पुस्तकें प्रकाशित करवाई गईं और शिक्षकों को भी प्रशिक्षित किया गया। 10 से 15 प्रतिशत लोग भी यदि बापू के विचारों को अपना लें तो यह समाज और देश बदल जायेगा।

बिहार ने इस वर्ष बाढ़ और सूखे का दंश झेला

मुख्यमंत्री ने जलवायु परिवर्तन की चर्चा करते हुए कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण पर्यावरण पर संकट होने से इस वर्ष बिहार ने दो बार बाढ़ जबकि एक बार सूखे का दंश झेला है। इस परिप्रेक्ष्य में 13 जुलाई को विधानमंडल सदस्यों की बैठक बुलाई गयी थी, जिसमें जल-जीवन-हरियाली अभियान पूरे बिहार में चलाने का निर्णय लिया गया। इस अभियान के तहत अगले 3 वर्षो में 24 हजार करोड़ रुपये खर्च कर जलवायु परिवर्तन में सुधार लाने की दिशा में अनेक कार्य किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 2 अक्टूबर से जल-जीवन-हरियाली अभियान की शुरुआत कर दी गयी है। सबसे पहले न्याय यात्रा की और अब जल-जीवन-हरियाली यात्रा करेंगे। इस यात्रा में पर्यावरण संतुलन के प्रति लोगों को सचेत करना है ताकि आने वाली पीढ़ी को स्वच्छ वातावरण के साथ-साथ शुद्ध पेयजल भी मिलता रहे।

कोयले का भंडार सीमित है

उन्होंने कहा कि कोयले का भंडार सीमित है इसलिए असली ऊर्जा सौर ऊर्जा ही है, जो सदैव लोगों को मिलती रहेगी। ‘जल-जीवन-हरियाली यात्रा’ के तहत पूरे बिहार में जाकर पर्यावरण संतुलन बनाये रखने के प्रति लोंगो को प्रेरित भी करेंगे। ज्ञान और निर्वाण की भूमि गया में पीने के लिए पाइप से गंगा का जल पहुंचाने की दिशा में भी काम किया जा रहा है। सभी सरकारी भवनों में जल संचयन की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जा रही है। 19 करोड़ पौधे लगाकर बिहार का हरित आवरण 9 से बढ़ाकर 15 प्रतिशत पर पहुंचाने में हमलोग कामयाब हुए जिसे बढ़ाकर 17 प्रतिशत करने का लक्ष्य निर्धारित है। जनसभा को गन्ना उद्योग मंत्री बीमा भारती, सांसद संतोष कुशवाहा, धूसर टीकापट्टी पंचायत की मुखिया शांति देवी एवं जिलाधिकारी राहुल कुमार ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर जल संसाधन मंत्री संजय झा, मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह, विधायक लेसी सिंह, विधान पार्षद संजीव कुमार सिंह, जिलाधिकारी गोपाल सिंह, पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा समेत अधिकारी उपस्थित थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मालदह में युवती से ‘गैंग रेप’, फिर जिंदा जलाया

हैदराबाद जैसी घटना से बंगाल स्तब्ध शव की हालत इतनी खराब कि उसकी शिनाख्त नहीं हो पायी सन्मार्ग संवाददाता मालदहः हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड जैसी घटना गुरुवार आगे पढ़ें »

बिग बॉस 13 से बाहर होंगे सिद्धार्थ शुक्ला,जानकर दुखी हुए फैन

मुंबई : टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस का सीजन 13 कई मायनों में सुपरहिट साबित हो रहा है और रोजाना कोई ना कोई नया विवाद आगे पढ़ें »

ऊपर