विरोधी आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है राजग सरकार : कुशवाहा

पटना : राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नीत महागठबंधन के सभी घटक दलों के नेताओं की उपस्थिति में यहां कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने रविवार को कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार के कार्यकाल में सरकार विरोधी आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए अपनाये गये हथकंडों से देश में तानाशाही का माहौल बना हुआ है। देश अभी खतरनाक दौर से गुजर रहा है। लोकतंत्र का गला घोंट दिया गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जो लोग भाजपा के अनुकूल बातें नहीं करते उन पर दमनात्मक कार्रवाई की जा रही है। आगामी 12 अक्टूबर को महान समाजवादी नेता डॉ.राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के अवसर पर राजधानी पटना के बापू सभागार में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में महागठबंधन के घटक राजद कांग्रेस, रालोसपा, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के सभी वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता शामिल होंगे तथा इस अवसर पर केंद्र सरकार को उसके अलोकतांत्रिक और दमनात्मक कार्रवाई के खिलाफ कड़ा संदेश दिया जायेगा। बिहार के मुख्यमंत्री एवं जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को महागठबंधन में साथ लाने की संभावना पर कुशवाहा ने कहा कि नीतीश को बिहार की जनता अब नकार चुकी है और वे जन आकांक्षाओं को पूरा करने में विफल साबित हुए हैं। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेश सिंह, वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी, राजद के राष्ट्रीय सचिव सर्वजीत कुमार व हम के प्रदेश सचिव अनिल रजक उपस्थित थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर