मुजफ्फरपुर आश्रय गृह मामला : पीड़ित बच्चियों को घर भेजने पर आज फैसला सुनायेगा सुप्रीम कोर्ट

नयी दिल्ली/पटना : मुज़फ़्फ़रपुर आश्रय गृह यौन उत्पीड़न मामले में पीड़ित बच्चियों को उनके घर भेजने को लेकर उच्चतम न्यायालय गुरुवार को अपना आदेश सुनायेगा। न्यायमूर्ति एनवी रमन की अध्यक्षता वाला तीन सदस्यीय पीठ पीड़ित बच्चियों को उनके माता-पिता को सौंपने पर आदेश सुनायेगा। टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज की ओर से सीलबंद लिफाफे में स्थिति रिपोर्ट दाखिल की गयी है। इंस्टीट्यूट की ओर से न्यायालय को बताया गया कि कुछ बच्चियों के घर का पता चल गया है और उनके मां-पिता उन्हें वापस लेने को तैयार हैं। मालूम हो कि एक मामले में बच्ची ने अपने घर का पता व घर की लोकेशन बतायी है, लेकिन उस पते पर घरवाले नहीं मिले हैं। इससे पहले 18 जुलाई को पीठ ने टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज के फील्ड एक्शन प्रोजेक्ट ‘कोशिश’ को आश्रय गृह की पीड़ित बच्चियों से बातचीत की अनुमति दे दी थी ताकि उनका पुनर्वास किया जा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bengali

बंगाली भाषा की बोर्ड परीक्षा शुरू होने के तुरंत बाद प्रश्नपत्र की फोटो कॉपी व्हाट्सअप पर

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में मंगलवार को कक्षा 10वीं बोर्ड की पहली भाषा (बंगाली) की परीक्षा शुरू होने के कुछ ही समय बाद प्रश्नपत्र की आगे पढ़ें »

madras

मद्रास हाईकोर्ट ने सीएए प्रदर्शन पर रोक लगाने से किया इंकार

चेन्नई : मद्रास उच्च न्यायालय ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ चेन्नई में बुधवार को होने वाले विरोधी प्रदर्शन पर रोक लगाने से इनकार आगे पढ़ें »

uddhav

महाराष्ट्र में एनपीआर की प्रक्रिया को नहीं रोका जाएगा : उद्धव ठाकरे

ईईएसएल देशभर में 1000 सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशन करेगा स्थापित, बीएसएनएल के साथ किया करार

पीरियड में होने वाले हर समस्या का समाधान है किचन में मौजूद यह एक मसाला

assam

असमिया परिवारों में शादी करने वाले बंगाली हिंदुओं को मिलेगा नकद प्रोत्साहन

सैमसंग ने लॉन्च किया गैलेक्सी एस सीरिज के फोन, जानिए कीमत

trump

कांडला पोर्ट पर मिला संदिग्ध सैटेलाइट फोन, ट्रंप दौरे से पहले प्रशासन में मचा हड़कंप

hakla

मोगैंबो का किरदार निभाएंगे शाहरुख खान, मिस्टर इंडिया बनेंगे रणवीर

amitabh

अमर सिंह ने अमिताभ बच्‍चन से मांगी मांफी, बोले- जिंदगी और मौत से लड़ रहा

ऊपर