पप्पू यादव ने दो मामलों में अदालत में किया आत्मसमर्पण, जमानत पर रिहा

पटना : जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पटना की एक अदालत में बुधवार को दो अलग-अलग मामलों में आत्मसमर्पण किया, जहां बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया। यादव की ओर से अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रणविजय सिंह की अदालत में आत्मसमर्पण करने के साथ ही जमानत पर मुक्त किये जाने की प्रार्थना की गयी थी। अदालत ने दोनों मामलों में उनकी प्रार्थना की स्वीकार लिया व दस-दस हजार रुपये दो जमानतदारों के साथ उसी राशि का निजी बंध पत्र दाखिल करने पर उन्हें जमानत पर मुक्त करने का आदेश दिया।
पहला मामला पटना के गर्दनीबाग थाना क्षेत्र में नाजायज मजमा बनाकर सरकारी कार्य में बाधा डालने व सरकारी कर्मचारियों पर जानलेवा हमला करने का था। दूसरा मामला पटना के ही सचिवालय थाना क्षेत्र में इसी साल एक धरना-प्रदर्शन के दौरान सरकारी काम में बाधा डालने व लापरवाहीपूर्वक लोगों को चोट पहुंचाने का है। यादव ने अदालत में आत्मसमर्पण करने के साथ ही इन मामलों में भी नियमित जमानत की प्रार्थना की गयी थी, जिसे मंजूर कर लिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नागरिकता कानून के खिलाफ ममता की रैली, कहा- भाजपा पैसे देकर कराती है हिंसा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को कोलकाता की सड़कों पर उतरीं और पूरे देश आगे पढ़ें »

chauhan

असम में तैनात सेना की टुकड़ियां एक या दो दिन में बैरक में वापस आ जाएंगी: सेना कमांडर

कोलकाता : सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ने सोमवार को कहा कि असम में ‌स्थिति तेजी से सुधर रही है। उन्होंने उम्मीद जताई आगे पढ़ें »

ऊपर