पप्पू यादव ने दो मामलों में अदालत में किया आत्मसमर्पण, जमानत पर रिहा

पटना : जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पटना की एक अदालत में बुधवार को दो अलग-अलग मामलों में आत्मसमर्पण किया, जहां बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया। यादव की ओर से अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रणविजय सिंह की अदालत में आत्मसमर्पण करने के साथ ही जमानत पर मुक्त किये जाने की प्रार्थना की गयी थी। अदालत ने दोनों मामलों में उनकी प्रार्थना की स्वीकार लिया व दस-दस हजार रुपये दो जमानतदारों के साथ उसी राशि का निजी बंध पत्र दाखिल करने पर उन्हें जमानत पर मुक्त करने का आदेश दिया।
पहला मामला पटना के गर्दनीबाग थाना क्षेत्र में नाजायज मजमा बनाकर सरकारी कार्य में बाधा डालने व सरकारी कर्मचारियों पर जानलेवा हमला करने का था। दूसरा मामला पटना के ही सचिवालय थाना क्षेत्र में इसी साल एक धरना-प्रदर्शन के दौरान सरकारी काम में बाधा डालने व लापरवाहीपूर्वक लोगों को चोट पहुंचाने का है। यादव ने अदालत में आत्मसमर्पण करने के साथ ही इन मामलों में भी नियमित जमानत की प्रार्थना की गयी थी, जिसे मंजूर कर लिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर