दरभंगा के किसानों को कृषि फीडर से मिलेगी निर्बाध बिजली

दरभंगा : बिहार में किसानों को डेडीकेटेड कृषि फीडर के माध्यम से सिंचाई के लिए निर्बाध विद्युत आपूर्ति उपलब्ध कराये जाने के प्रयासों के तहत दरभंगा जिले में तकरीबन शत प्रतिशत कृषि फीडर लगाने का काम पूरा कर लिया गया है।
नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के उपमहाप्रबंधक (मिथिला क्षेत्र) एस.के.दास ने शुक्रवार को यहां बताया कि योजना के तहत जिले में कुल 68 कृषि फीडर लगाने का लक्ष्य रखा गया था, जिनमें से अब तक 65 फीडर का निर्माण पूरा किया जा चुका है। शेष तीन फीडर को भी दिसंबर के अंत तक लगा दिया जायेगा। इसी तरह जिले में 18 घरेलू फीडर लगाने का लक्ष्य निर्धारित था जिसके आलोक में अबतक 12 फीडर लगाये जा चुके हैं जबकि छह अन्य को भी इस वर्ष के अंत तक लगा दिया जायेगा। एस.के. दास ने कहा कि जिले के 5525 कृषि कनेक्शन देने के लिए लक्ष्य में से करीब 52 प्रतिशत कनेक्शन दिये जा चुके है और इस वर्ष के अंत तक इस लक्ष्य को हासिल कर लिया जायेगा। उन्होंने बताया कि ग्रामीण इलाकों में वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान 180834 नये उपभोक्ता जोड़े गये हैं जो एक रिकार्ड है। पिछले वर्ष के मुकाबले उपभोक्ताओं की संख्या 34.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। उपमहाप्रबंधक ने कहा कि जिले में 31 दिसंबर तक 11 किलोवाट की क्षमता वाले 13 फीडर को लगाने का योजना थी, जिनमें से 12 फीडर का निर्माण किया जा चुका है। वहीं, जिले में विद्युत उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए 197 नये ट्रासफॉमर लगाये गये हैं। उन्होंने कहा कि राजस्व संग्रहण के मामले में भी इस वित्तीय वर्ष में लक्ष्य से अधिक राजस्व प्राप्त किया गया है। दरभंगा शहरी इलाके में जहां निर्धारित लक्ष्य 51.91 लाख रुपये के मुकाबले 61.21 लाख रुपये (सितंबर तक) राजस्व हासिल किया गया है, जो लक्ष्य का 117.91 प्रतिशत है, वहीं ग्रामीण इलाके में 61.27 लाख रुपये के मुकाबले 61.57 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त किया गया। उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2018-19 में शहरी क्षेत्र में निर्धारित लक्ष्य के मुकाबले केवल 92.41 प्रतिशत जबकि ग्रामीण इलाके में 68.84 फीसदी राजस्व हासिल किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब ई-कॉमर्स के माध्यम से नहीं मंगा सकेंगे विदेशी गिफ्ट, सरकार ने लगाई रोक

नई दिल्ली : सरकार ने एक आदेश जारी कर अब कोई भी सामान ई-कॉमर्स के माध्यम से गिफ्ट के रूप में विदेश से मंगाने पर आगे पढ़ें »

”राम मंदिर निर्माण में अब कोई बाधा नहीं”- विहिप अध्यक्ष

इंदौर (मध्यप्रदेश) : शीर्ष न्यायालय द्वारा गुरुवार को अयोध्या मामले में दायर पुनर्विचार याचिकाएं खारिज करने के निर्णय का विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के अंतरराष्ट्रीय आगे पढ़ें »

ऊपर