जदयू के इफ्तार पर गिरिराज ने कसा तंज, अमित शाह ने लगाई फटकार

पटना : इफ्तार पार्टी को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज ‌सिंह पर जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से कार्रवाई की मांग की। मामले की जानकारी मिलने के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गिरिराज सिंह को फोन पर फटकार लगाई है।
इस तरह के बयान देने से बचें
शाह ने गिरिराज सिंह को फोन कर इस तरह के बयान देने से बचने को कहा है। सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर इफ्तार पार्टी की तस्वीर के साथ लिखा था, “कितनी खूबसूरत तस्वीर होती जब इतनी ही चाहत से नवरात्रि पर फलाहार का आयोजन करते और सुंदर फोटो आते। अपने कर्म धर्म में हम पिछड़ क्यों जाते और दिखावे में आगे क्यों रहते हैं।”
गिरिराज की जीत नीतीश की देन
गिरिराज के तंज वाले ट्वीट के जवाब में जदयू के वरिष्ठ नेता और भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा, “उनकी इतनी हैसियत ही नहीं है कि वह हमारे नेता नीतीश कुमार को कोई नसीहत दें।” उन्होंने कहा कि “यह वही गिरिराज सिंह हैं, जो चुनाव के वक्त नीतीश जी को 10 बार फोन करते थे और अपने पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए आग्रह किया करते थे।” चौधरी ने कहा कि आज वह जो 4.5 लाख वोट से जीतकर संसद पहुंचे हैं और मंत्री बने हैं वह नीतीश कुमार की ही देन है।
हिंदू का मतलब हिंसा नहीं होता

वहीं जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने ट्वीट कर गिरिराज सिंह पर पलटवार किया, “गिरिराज सिंह जी, हिंदू का मतलब हिंसा नहीं होता है। हम ढोंग नहीं करते हैं और ना ही हमें झूठा दिखावा करना पड़ता है।” उन्होंने लिखा, “देश उन्माद से नहीं चलता है। ऐसा बयान कोई मानसिक तौर पर बीमार व्यक्ति ही दे सकता है।” जदयू प्रवक्ता ने ट्विटर पर लिखा, “भारत दुनिया का सबसे खूबसूरत देश इसलिए है क्योंकि यहां सभी धर्म और संप्रदाय को मानने वालों को संविधान ने समान अधिकार दिया है। हम देवी दुर्गा की आराधना में फलाहार भी करते हैं और रमजान के महीने में इफ्तार भी। सर्व धर्म समभाव से सुंदर तस्वीर क्या होगी?”

बता दें कि राज्य में जदयू और भाजपा गठबंधन की सरकार है। हाल ही में मोदी मंत्रिमंडल के गठन में नीतीश कुमार ने जदयू को सांकेतिक हिस्सेदारी देने की बात कह कर पार्टी की उपेक्षा किए जाने का इशारा किया था। हालांकि उन्होंने गठबंधन पर इसके असर से पूरी तरह इंकार किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

और गुरु अर्जुन देव को गर्म लोहे पर बैठा दिया गया

कहा जाता है कि आस्था तथा पूरा विश्वास हर व्यक्ति का व्यक्तिगत विषय है। और यह भी सच है कि देव दूत कहलाने वाले धर्म आगे पढ़ें »

घर लौटे श्रमिकों को राज्य सरकार देगी रोजगार

मंत्री ने कहा महिला श्रमिकों को भी मिलेगा रोजगार, दूसरे राज्यों में काम करने वाले श्रमिकों की संख्या : करीब 9 लाख कोलकाता : कोरोना के आगे पढ़ें »

ऊपर