यास : पेड़ काटने के लिए कई इलाकों में विद्युत सेवा बंद की गयी

हावड़ा : अम्फान से शिक्षा लेते हुए चक्रवाती तूफान यास से निपटने के लिए सीईएससी ने पहले ही तैयारियां कर ली थीं, हालांकि यास ने हावड़ा व हुगली के इलाकों में ज्यादा तबाही नहीं मचाई। इससे निपटने के लिए सीईएससी की ओर से पहले ही लोगों की बिजली काट दी गयी, ताकि इस दौरान रोड पर मौजूद पेड़ों को काट दिया जाये। इसे लेकर गत मंगलवार को हावड़ा के कई इलाकों में विद्युत परिसेवा कुछ समय के लिए बंद कर दी गयी। इसके बाद निगम के कर्मियों ने बड़े पेड़ों की डालों को काटना शुरू किया। इसके तहत घुसुड़ी के गवर्नमेंट क्वार्टर में मौजूद पेड़ों की बड़ी शाखाओं को काटने के लिए कुछ देर के लिये सप्लाई बंद कर दी गयी। इसमें मौसम में नमी थी जिसके कारण दिन में ही अंधेरा छा गया। लोगों ने अपने घरों में मोमबत्ती जलाकर रोशनी की। इस बारे में उक्त इलाके की रहनेवाली वर्षा सुरोलिया ने बताया कि सुबह से ही बिजली नहीं होने के कारण मोमबत्ती जलाकर दोपहर में रहना पड़ा। हालांकि शाम होने से पहले ही वापस लाइट आ गयी। इसके अलावा मालीपांचघड़ा थाना के ट्रैफिक गार्ड के कार्यालय के निकट भी मौजूद पेड़ों की डालों को काटा गया। इसके अलावा निगम के आसपास इलाकों में मौजूद पेड़ों की टहनियों को हटा दिया गया ताकि यास आने के कारण किसी प्रकार की कोई बड़ी दुर्घटना न घटे। गौरतलब है कि अम्फान के दौरान पिछले साल कई इलाकों में पेड़ गिरने के कारण बिजली के खंभे उखड़ गये थे। इससे लोगों को कई दिनों तक बिजली के बिना रहना पड़ा था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘उत्तर बंगाल में भाजपा की अंत शुरूआत हुई’

कहा - राज्य में भाजपा का पतन निकट अलीपुरदुआर के भाजपा अध्यक्ष सहित 7 नेता तृणमूल में शामिल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्तर बंगाल में भाजपा को झटका आगे पढ़ें »

सेक्स के 4 ऐसे पोजीशन जो रात को बना देती है, खुशनुमा

कोलकाताः सेक्स दुनिया का सबसे अलग एहसास है। हालांकि सेक्स को लेकर तरह-तरह के सवाल सभी के मन में रहते है। इसे लेकर लोगों की आगे पढ़ें »

ऊपर