2 दिनों में यहां हजारों आवेदन…

संदेहजनक स्थिति में दोबारा होगी जांच
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : यास तूफान ने बंगाल में अपना कहर बरपाया है। सबसे ज्यादा जो तीन जिले प्रभावित हुए हैं, इनमें दक्षिण 24 परगना, उत्तर 24 परगना, पूर्व मिदनापुर हैं। इसके अलावा हावड़ा, हुगली, पश्चिम मिदनापुर व बीरभूम में भी यास ने तबाही मचायी। कृषि, बिजली, सिंचाई, मत्स्य, सड़क से लेकर भारी संख्या में लोगों के घर तक इसमें उजड़ गये हैं। अब राज्य सरकार ने लोगों तक राहत पहुंचाने के लिए दुआरे त्राण की शुरुआत की है। पिछले 2 दिनों से दुआरे त्राण कैंप उन सभी जिलों में लग रहे हैं जहां यास ने तबाही मचायी थी। सबसे मजे की बात यह है कि इस बार किसी भी नेता की दखलंदाजी नहीं चल रही है और प्रशासनिक अधिकारी दुआरे त्राण का परिचालन कर रहे हैं। सन्मार्ग ने विभिन्न जिलाें के प्रशासनिक अधिकारियों से बातचीत की। प्रशासनिक अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक 3 जिलों दक्षिण 24 परगना, उत्तर 24 परगना, पूर्व मिदनापुर में गत दो दिनों में हजारों आवेदन आये हैं।
हर आवेदन की होगी जमीनी स्तर पर जांच
एक अधिकारी ने बताया कि 15 दिनों तक चलने वाले कैंप में जितने भी आवेदन मिलेंगे, उन सभी की बारीकी से जांच होगी। हर एक आवेदन की ग्राउंड स्तर पर जांच की जाएगी। जहां भी संदेह होगा वहां दोबारा जांच की जाएगी।
पूर्व मिदनापुर के डीएम पूर्णेंदु माझी ने कहा कि, गत दो दिनों भारी संख्या में आवेदन आये हैं। 15 दिनों में 173 कैंप लगेंगे। करीब 12 ब्लॉक और 66 ग्राम पंचायत यास तूफान से प्रभावित हुए हैं। हर आवेदन की जमीनी स्तर पर जांच होगी। हावड़ा की डीएम मुक्ता आर्य ने बताया कि यास से सबसे ज्यादा उलूबेड़िया का अंचल प्रभावित हुआ है। हमलोग दो तरह से जांच करेंगे। एक पैरेलल और दूसरी ग्राउंड जांच। वरिष्ठ अधिकारी फील्ड में उतरकर हर आवेदन की जांच करेंगे। उल्लेखनीय है कि पिछले साल अम्फान के बाद राहत सामग्रियाें के वितरण में कई शिकायतें आयी थीं। पंचायत स्तर से लेकर स्थानीय तृणमूल नेताओं पर भी आरोप लगे थे।
एक नजर कहां कितना प्रभावित व एवं कितने आये आवेदन
पूर्व मिदनापुर
कुल कैंप की संख्या – 173
3 व 4 जून को लगे कैंप – 34 (11 व 23)
12 ब्लाॅक व 66 ग्राम पंचायत यास से प्रभावित
पहले दिन 3600 आवेदन आये
दक्षिण 24 परगना
यास प्रभावित ग्राम पंचायतों की संख्या – 130
3 जून कुल को लगे कैंप की संख्या -36
4 जून कुल को लगे कैंप की संख्या – 49
दूसरे दिन करीब 6200 आवेदक कैंप पहुंचे

शेयर करें

मुख्य समाचार

साल्टलेक सेक्टर-5 स्टेशन का भी निजीकरण

अब बंधन बैंक का लगा स्टेशन पर नाम कोलकाताः मेट्रो रेलवे की ओर से कई स्टेशनों को निजीकरण किए जाने की पहल पहले ही गई है। आगे पढ़ें »

महिला को डायन करार देकर पीटने का आरोप

मिदनापुर: पश्चिम मिदनापुर जिले के जंगलमहल इलाके में एक बार फिर से एक महिला को डायन करार देते हुए उसे बुरी तरह से पीटे जाने आगे पढ़ें »

ऊपर