पहरेदार की तरह एक साथ काम किया था सुब्रत दा के साथ

ममता ने कहा, याद आ रहे हैं सुब्रत दा
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोलकाता नगर निगम में मेयर के तौर पर सुब्रत मुखर्जी का नाम हमेशा आगे रहता है। सुब्रत मुखर्जी एक सफल मेयर के तौर पर जाने जाते हैं। गुरुवार को निगम के नये मेयर के नाम की घोषणा करने से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सुब्रत मुखर्जी को याद करते हुए कहा कि पहरेदार की तरह हमने साथ काम किया था। आज उनकी बहुत याद आ रही है। ममता ने कहा ​कि एक समय सुब्रत मुखर्जी कोलकाता के मेयर थे। आज भी याद है उस वक्त बोर्ड को बचाने के लिए 72 घंटे तक पार्षदों को निजाम पैलेस में रखा गया था। पार्षदों को अपनी ओर करने की कोशिश पूरी न कर पाए लेफ्ट, उसके लिए हम पहरेदार की तरह वहां खड़े थे। ममता ने अपने पार्षदों को भी ईमानदारी के साथ जनता के लिए काम करने का निर्देश दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बागुईआटीः इधर बज रही थी शहनाई उधर पसरा मातम

रघुनाथपुर: बागुईआटी के रघुनाथपुर में एक बैंक्वेट की दूसरी मंजिल पर शादी समारोह चल रहा था। वहां अचानक फायर रिजर्वर बॉक्स टूट पड़ा जिसके नीचे आगे पढ़ें »

सड़कों पर बेफिक्र होकर घूमने लगे लोग, लेकिन कोविड से मरने वालों का आंकड़ा अब भी डरा रहा, आज एक दिन में…

कोलकाताः सड़क के कुत्तों को खाना देने के दौरान महिला प्रोफेसर से छेड़छाड़

ब्रेकिंग : शो कॉज की नोटिस के बाद भाजपा नेता किये गये सस्पेंड

बंगाल के लोगों को अब ओमिक्रॉन के नए वेरिएंट ने सताना शुरू किया

‘महाराजा’ की घर वापसी की तारीख तय, इस दिन टाटा को सौंप दी जाएगी एयर इंडिया

कोहली ने वमिका की तस्वीरें नहीं छापने का अनुरोध किया

स्पॉट फिक्सिंग के लिए ब्लैकमेल किया गया : टेलर

‘विश्व कप खेलने के अरमानों पर फिरा पानी’

सामान्‍य नहीं है रात में बार-बार एक ही समय पर नींद खुलना, इसके छिपा है ये खास रहस्‍य

ऊपर