अस्पतालों में घूमती रही महिला, नहीं हो सका कोविड टेस्ट तक

अस्पतालों में नहीं मिला बेड, परिजन हाल-बेहाल
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने राज्य के स्वास्थ्य ढांचे को कितना प्रभावित किया है, इसका प्रमाण अस्पतालों में देखा जा सकता है। देर रात तक एक के बाद एक कई अस्पताल में एक महिला को लेकर जाया गया। हालांकि बेडर पाने की बात तो दूर, किसी भी अस्पताल ने लक्षणों के बावजूद उसका कोरोना परीक्षण तक नहीं किया। असहाय कसबा निवासी सुप्रिया पाल के परिवार ने सरकारी और निजी सभी अस्पतालों में कोशिश की, हालांकि कोई सहायता नहीं मिली। कसबा निवासी 50 वर्षीय सुप्रिया पाल पिछले शुक्रवार से सांस की तकलीफ से पीड़ित हैं। शनिवार को उन्हें अधिक दिक्कत होने लगी। इसके बाद दिलीप पाल अपनी पत्नी को शिशु मंगल अस्पताल ले गए। अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि कोई बेड खाली नहीं है। पत्नी की शारीरिक पीड़ा बढ़ रही थी। इस स्थिति में, दिलीप अपनी पत्नी को मेडिका सुपरस्पेशि‌एलिटी अस्पताल ले गए। वहां भी यही स्थिति सामने आई। इसके बाद वह ईएम बाइपास के एक अस्पताल पहुंचे। यहां भी बेड नहीं मिला। इसके बाद दिलीप पाल अपनी पत्नी को गड़चा के एक नर्सिंग होम में ले गए। सुप्रिया पाल को तड़के सुबह दो बजे तक कई अस्पतालों में जाने के बाद भी मामूली इलाज तक नहीं मिला।
रविवार सुबह दिलीप अपनी पत्नी को एसएसकेएम अस्पताल ले गए। वहां, अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि अस्थमा की रोगी सुप्रिया को अपने कोरोना की जांच करवाने की जरूरत है। एसएसकेएम ने उन्हें नेशनल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में रेफर कर दिया। अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि कोई बेड नहीं है। इसके बाद वह बेलियाघाटा आईडी अस्पताल पहुंचे। यहां के अधिकारियों ने कहा कि कोरोना टेस्ट करने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। डॉक्टरों ने उन्हें राज्य सरकार के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करने की सलाह दी। जब उन्होंने राज्य सरकार के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल किया, तो प्रतिनिधि ने उन्हें बताया कि पॉजिटिव रिपोर्ट के बिना कुछ भी नहीं किया जा सकता है। वह बाद में कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल पहुंचे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लॉकडाउन के दौरान महानगर की सड़कों पर तैनात रहेंगे पुलिस कर्मी

नियमों का उल्लंघन करने पर डीएमजी एक्ट के तहत होगा मामला 30 जगहों पर पर होगा नाका चेकिंग सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या आगे पढ़ें »

अगर आपका भी होता रहता है अपमान तो रविवार के दिन करें ये अचूक उपाय

कोलकाता : अगर किसी व्यक्ति को घर-परिवार या समाज में मान-सम्मान नहीं मिलता है तो इसके पीछे ज्योतिषीय कारण भी हो सकते हैं। कुण्डली में आगे पढ़ें »

ऊपर