पार्थ चटर्जी पर महिला ने फेंके जूते, पकड़े जाने पर दिया चौंका देने वाला बयान

कोलकाताः शिक्षक भर्ती मामले में गिरफ्तार पश्चिम बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी के प्रति लोगों में नफरत बढ़ती जा रही है। उनके प्रति लोगों में बढ़ रहे क्रोध की जीती-जागती तस्वीर मंगलवार को देखने को मिली है। एक महिला ने पार्थ को देखते हुए उनपर जूते फेंक दिया। यह घटना तब सामने आई जब पार्थ ईएसआई अस्पताल से मेडिकल जांच करवाकर बाहर निकल रहे थे। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। चप्पल फेंकने वाली महिला का नाम शुभ्रा घरुई बताया जा रहा है। वह आममतला की रहने वाली हैं। महिला को इस बात का पछतावा है कि उसकी ओर से फेंकी गई चप्पल पार्थ चटर्जी को लगी नहीं। महिला का कहना है कि चप्पल अगर पार्थ के चेहरे पर लगती तो उन्हें सुकून मिलता।

क्यों फेंकी चप्पल?
पार्थ चटर्जी पर चप्पल फेंकने वाली महिला शुभ्रा ने बताया कि, पार्थ जैसे लोग ही आम आदमी की गाढ़ी कमाई हजम कर जाते हैं। ऐसे लोगों की वजह से ही शिक्षा जैसी आधारभूत जरूरत भी लोगों को ठीक से मिल नहीं पा रही है। महिला ने कहा कि अगर चप्पल पार्थ चटर्जी को लगती तो मुझे शांति मिलती। ये नेता जनता का धन लूट रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ममता ने कन्याश्री दिवस पर बंगाल की लड़कियों को बधाई दी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कन्याश्री योजना में शामिल की गई और अपने सपनों को साकार करने वाली लड़कियों को रविवार को बधाई आगे पढ़ें »

ऊपर