हरिदेवपुर में महिला की गला घोटकर हत्या

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : ठाकुरपुकुर थानांतर्गत संतोष राय रोड में एक महिला की गला गोटकर हत्या कर दी गयी। मृतका का नाम संध्या सरदार (52) है। वह हरिदेवपुर के भुवन मोहन रोड की रहनेवाली थी। घटना की सूचना पाकर मौके पर डीडी के होमीसाइड विभाग और ठाकुरपुकुर थाने की पुलिस पहुंची। घटनास्थल के अलावा उसके घर का अधिकारियों ने दौरा किया। पुलिस मामले में महिला के पति से पूछताछ कर रही है।
क्या है पूरा मामला
जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह 7 बजे संध्या को अचेत अवस्था में पड़ा देख लोगों ने सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। महिला के शरीर पर चोट के निशान मिले थे। इस बीच शाम को महिला के शव का पोस्टमॉर्टम के बाद डॉक्टरों ने प्राथमिक तौर पर बताया कि उसकी गला घोटकर हत्या कीहै। इसके बाद ही पुलिस ने जांच तेज कर दी। पुलिस ने घनास्तल से नमूना संग्रह करने के साथ ही उसके घर जाकर परिजनों से पूछताछ की। पुलिस को प्राथमिक जांच में पता चला कि महिला मानिसक रूप से बीमार थी। उसके परिवार के कई सदस्य भी मानसिक रूप से बीमार थे। मह‌िला आए दिन घर से बाहर निकल जाती थी। उसके लिए घर में अलग कमरा बनाया गया था। फिलहाल पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को खंगालकर अभियुक्त की तलाश कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अन्य नगर निकायों के चुनाव भी अप्रैल तक

चुनाव आयोग है पूरी तरह से तैयार सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य चुनाव आयोग की ओर से कोलकाता नगर निगम के चुनाव की घोषणा की जा चुकी है। आगे पढ़ें »

रविवार को चुनावी मैदान में तृणमूल ने किया जमकर प्रचार

सेक्स करने का सबसे सही समय कब होता है दिन या रात?

आजमगढ़ में सिंदूर दान से पहले मचला लड़के का मन, लड़की का शादी से …

विपक्षी एकता में पड़ी दरार! इस दल ने कांग्रेस से किया किनारा, सामने आई ये वजह

जज हत्याकांड: सीबीआई को षड्यंत्रकारी बारे में मिले अहम सुराग

त्रिपुरा में हार के बाद बोले अभिषेक ‘भाजपा ने प्रजातंत्र की हत्या की…

स्कूलों की समयावधि बढ़ाने के खिलाफ राजभवन पर धरना देंगे शिक्षक

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में नंबर-1 बना बिहार, लोक कला संस्कृति को मिला गोल्ड

मोटी कहकर चिढ़ाते थे, प्रेग्नेंट नहीं होने पर ताने, तंग आकर…

ऊपर