दांत सही होने की बजाय, महिला की मौत, 1 लाख की क्षतिपूर्ति

कोलकाताः रॉयड नर्सिंग होम में अपने दांत को ठीक करवाने के लिए अंजना साहा पहुंची थीं। एनेस्थिया के बाद ही वह अस्वस्थ हो गई थीं। बाद में चिकित्सा के बाद भी उनकी जान नहीं बच पाई। मामले को लेकर परिजनों ने वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन में शिकायत की थी। जस्टिस असीम कुमार बनर्जी ने कहा कि दरअसल यह नहीं पता चल सका कि इंजेक्शन या किसी अन्य कारण से वह अस्वस्थ हुई थीं। अस्वस्थ होने के बाद सिंरिंज व इंजेक्शन को संरक्षित रखना चाहिए था, हालांकि ऐसा नहीं किया गया। ऐसे में अस्पताल पर 1 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति का निर्देश‌ दिया गया है। साथ ही

शेयर करें

मुख्य समाचार

मास्क पहनने के लिए कहने पर महिला यात्री से बदसलूकी, एक गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : ऑटो में बिना मास्क के सफर कर रहे व्यक्ति को मास्क पहनने को कहना एख महिला को काफी महंगा पड़ा गया। आरोप आगे पढ़ें »

पुलिस कर्मियों में संक्रमण बढ़ते देख फिर चालू हो रहा क्वारंटाइन सेंटर

डुमुरजला पुलिस अकादमी और भवानीपुर पुलिस अस्पताल में चालू हुआ केन्द्र सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले आगे पढ़ें »

ऊपर