…आखिर क्यों रंतिदेव ने जतायी नाराजगी

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : रविवार को भाजपा ने तीसरे और चौथे चरण के चुनाव के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की। इसके तहत हावड़ा दक्षिण से रंतिदेव सेनुगप्ता को उम्मीदवार बनाया गया मगर उन्होंने अपनी नाराजगी जाहिर की और ये बताया कि वह विधानसभा चुनाव में लड़ना नहीं चाहते थे। वह पार्टी के लिए प्रचार ​जरूर करना चाहते थे मगर किसी विधानसभा क्षेत्र से लड़ने की उनकी कोई इच्छा नहीं थी।
2019 के लोकसभा चुनाव में रंतिदेव सेनगुप्ता ने हावड़ा से चुनाव लड़ा था, लेकिन तृणमूल उम्मीदवार प्रसून बनर्जी के हाथों उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद अब 2021 के विधानसभा चुनाव में उन्हें हावड़ा दक्षिण से उम्मीदवार बनाया गया है। हालांकि इस बार उन्हें विधानसभा चुनाव में लड़ने की कोई इच्छा नहीं थी। बगैर बताये उन्हें उम्मीदवार बनाये जाने के कारण वह पार्टी नेतृत्व से नाराज हुए, हालांकि पार्टी नेतृत्व से काफी देर बात करने के बाद वह चुनाव लड़ने को राजी हो गये हैं। रंतिदेव सेनगुप्ता ने कहा, मुझे अचानक पता चला कि उम्मीदवारों में मेरा नाम भी है, लेकिन मैं किसी केंद्र से उम्मीदवार नहीं बनना चाहता था। पार्टी का होकर केवल प्रचार करना चाहता था। बगैर बताये ही मेरे नाम की घोषणा कर दी गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ब्रेकिंगः नरेंद्र मोदी के संबोधन से जुड़ी हर बात यहां

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री ने देश के नाम पर संबोधन शुरू कर दिया है। आइए जानते हैं संबोधन की मुख्य बातें। मोदी ने कहा, ‘साथियो! अपनी आगे पढ़ें »

प्रधानमंत्री मोदी कोरोना के हालात पर रात 8.45 बजे देश को संबोधित करेंगे

नई ‌दिल्लीः देश में कोरोना के बिगड़ते हालात पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को संबोधित करेंगे। मोदी रात 8.45 बजे अपने संबोधन में कोरोना के आगे पढ़ें »

ऊपर