क्यों हारी भाजपा ? विवादों के बाद रद्द हुई विश्वभारती द्वारा बुलायी संगो​ष्ठी

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : 200 से अधिक सीटें पाने का दावा करने वाली भाजपा को विधानसभा चुनाव में केवल 77 सीटें मिली। ऐसे में स्वाभाविक तौर पर पार्टी के ऊपर से नीचे तक हर स्तर पर चर्चा का दौर जारी है। हालांकि अब भाजपा के हार के कारण पर चर्चा का आह्वान कर विश्वभारती विश्वविद्यालय विवादों में घिर गया है। इसे लेकर विश्वभारती विश्वविद्यालय के वीसी विद्युत चक्रवर्ती भी विवादों में फंस गये। आखिरकार उन्हें यह संगोष्ठी रद्द करनी पड़ी। खुद वीसी के नेतृत्व में आगामी 18 मई की शाम 4 बजे ये संगोष्ठी बुलायी गयी थी। इसका मुद्दा था, ‘भाजपा क्यों पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव नहीं जीत पायी।’ इसके वक्ता केंद्र सरकार के नीति आयोग के संयुक्त परामर्शदाता अध्यापक संजय कुमार थे। कोविड परिस्थिति में वर्चुअल माध्यम से ही सभी को चर्चा में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था। विश्वभारती में यूं तो विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होती है, लेकिन पूर्व एवं वर्तमान आ​श्रमिकों के एक बड़े वर्ग के अनुसार, ऐसा पहली बार है कि किसी राजनीतिक पार्टी को लेकर इस तरह चर्चा बुलायी गयी है। इसे लेकर अध्यापक, छात्र, आश्रमिक के साथ ही बोलपुर के आम लोगों ने भी निंदा की। चारों ओर से तेज विरोध झेलने के बाद आखिरकार इस संगोष्ठी को रद्द करना पड़ा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘उत्तर बंगाल में भाजपा की अंत शुरूआत हुई’

कहा - राज्य में भाजपा का पतन निकट अलीपुरदुआर के भाजपा अध्यक्ष सहित 7 नेता तृणमूल में शामिल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्तर बंगाल में भाजपा को झटका आगे पढ़ें »

सेक्स के 4 ऐसे पोजीशन जो रात को बना देती है, खुशनुमा

कोलकाताः सेक्स दुनिया का सबसे अलग एहसास है। हालांकि सेक्स को लेकर तरह-तरह के सवाल सभी के मन में रहते है। इसे लेकर लोगों की आगे पढ़ें »

ऊपर