आखिर कब हटेगा 5 शहरों से आने वाली उड़ानों पर लगा आंशिक प्रतिबंध

यात्री पूछ रहे हैं सवाल, कब तक दूसरे एयरपोर्ट होकर आए हम
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : आखिर कब हटेगा 5 शहरों पर लगाया गया आंशिक प्रतिबंध। अब यात्री पूछ रहे हैं सवाल। ट्रेनों की शुरुआत हो चुकी है। सभी डेस्टिनेशन के लिए उड़ानों की शुरुआत हो चुकी है लेकिन लगभग 8 महीने पहले जिन शहरों से उड़ानों के आने पर प्रतिबंध लगाया गया था, उनमें से मात्र दिल्ली के लिए ही उड़ानों को सामान्य किया गया है बाकि अब भी 5 शहरों से आने वाले उड़ान सप्ताह में मात्र तीन दिन ही कोलकाता आ रहे है। इस कारण यात्रियों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। कोरोना काल के बाद अब धीरे-धीरे सब कुछ सामान्य हो गया है लेकिन इन उड़ानों पर लगा आंशिक प्रतिबंध अब भी जारी है।
6 जुलाई को लगा था 6 शहरों से आने वाले उड़ानों पर प्रतिबंध
6 शहरों से कोलकाता आने वाली उड़ानों पर 6 जुलाई से प्रतिबंध लगाया गया था और इसे आगे बढ़ाया ही जा रहा था। जब यात्रियों का सब्र का बांध टूट गया तो फिर सोशल मीडिया आदि पर यात्रियों ने अपना गुस्सा उतारा। इस दौरान कोरोना का कहर कम हुआ तो फिर दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, पुणे, नागपुर और अहमदाबाद शहरों से आने वाली उड़ानों पर लगी पूरी पाबंदी को 3 दिन किया गया। इनमें 1 सितंबर से सप्ताह में 3 दिन ​इन गंतव्यों से उड़ानों के कोलकाता में लैंडिंग की अनुमति दी गयी जो कि अब भी जारी है। जिन 3 दिनों में दिल्ली, मुम्बई,चेन्नई, नागपुर, पुणे और अहमदाबाद से उड़ानों की लैंडिंग की अनुमति है, उन दिनों में एयरपोर्ट पर काफी भीड़ हो जाती है। वहीं यात्रियों को इससे भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।
क्या कहना है एयरपोर्ट डायरेक्टर का
एयरपोर्ट डायरेक्टर कौशिक भट्टाचार्य ने बताया कि नये-नये गंतव्यों के लिए उड़ानों की शुरुआत हो रही है। 1 फरवरी को पोक्योंग तथा शिलांग के लिए उड़ान सेवा की शुरुआत हो गयी है लेकिन अब तक इन तीन शहरों से आने वाली उड़ानों पर पाबंदी जारी है। मात्र दिल्ली की उड़ान को कोलकाता में प्रतिदिन लैं​डिंग की अनुमति है। बाकि के मुंबई, चेन्नई, पुणे, नागपुर और अहमदाबाद के लिए सप्ताह में 3 दिन ही उड़ानों का संचालन किया जा रहा है।
दूसरे एयरपोर्ट से होकर आ रहे हैं यात्री
बड़ाबाजार के व्यवसायी कुनाल अग्रवाल के मुताबिक मुम्बई में उन्हें व्यवसाय के कारण आना-जाना पड़ता है। अब जब प्रतिदिन वहां के लिए उड़ान नहीं है तो कई बार दूसरे एयरपोर्ट से होकर चेन्नई जाना पड़ता है। यही हाल पुनम सरावगी का है। उनका कहना है कि इलाज के लिए अक्सर उन्हें चेन्नई जाना पड़ता है। ऐसे में प्रतिदिन उड़ान नहीं होने के कारण काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। प्रतिदिन उड़ान सेवाओं के शुरू नहीं होने के कारण मजबूर या​त्रियों को इन गंतव्यों से कोलकाता आने के लिए भाया अन्य एयरपोर्ट यात्रा करनी पड़ रही है। इससे उनका खर्चा और समय दुगना लग रहा है। यात्रियों की मांग है कि अगर सब कुछ नार्मल हो गया है तो फिर एयरपोर्ट पर विभिन्न स्थानों से कोलकाता आने वाले उड़ानों पर से पाबंदी भी हटा देनी चाहिए। फिलहाल चेन्नई के यात्री हैदराबाद व बंगलुरु होकर कोलकाता आ रहे हैं। यात्रियों की मांग है कि जल्द से जल्द कोलकाता एयरपोर्ट से इन पांचों शहरों के लिए सामान्य रूप से उड़ान परिसेवाओं की शुरुआत कर दी जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शराबी बेटे को पिता ने टोका तो बेटे ने नाक से सटाकर मार दी गोली

उत्तर प्रदेश : यूपी के मेरठ में बीती रात एक बेटे ने अपने पिता को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम आगे पढ़ें »

आईपीएल 14: 9 अप्रैल से आगाज

कोलकाताः बीसीसीआई ने रविवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन 14 का शेड्यूल जारी किया। इसके मुताबिक, आईपीएल-14 9 अप्रैल को शुरू होगा और 30 आगे पढ़ें »

ऊपर