घर से निकलें पर, न भूलें कोविड प्रोटोकॉल

कोलकाता : राज्य में कोरोना वायरस की रफ्तार काफी धीमी हुई है। हालांकि अब भी कोविड के नए मामले प्रतिदिन 500 पर भी नहीं पहुंचे हैं। दूसरी तरफ कोविड के थर्ड वेव को लेकर आशंका बरती जा रही है। एक्सपर्ट की मानें तो जरूरत है कि लोग अब भी जागरूक रहें। डॉ. शोभन सिकदर, कंसलटेंट एनेस्थिसियोलॉजिस्ट व वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम के एक्जीक्यूटिव सदस्य ने कहा कि दरअसल देखा जा रहा है कि जैसे ही कोविड की रफ्तार कम हुई है, लोग बाहर निकल रहे हैं। संभव है कि लंबे समय तक कोई घर में नहीं रह सकता, बाहर निकलना भी आवश्यक है। हालांकि हमें अब भी याद रखना होगा कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। लोगों के व्यवहार से ही कोविड से बचाव संभव है। कोविड का ट्रेंड लगातार बदल रहा है, हालांकि इससे घबराने की बजाय लोग कुछ बातों पर ध्यान देकर कोविड महामारी को रोक सकते हैं। सैनिटाइजर का उपयोग करें, बाहर से घर में प्रवेश करने पर सही से खुद को सैनिटाइज करें, हाथ सही ढंग से धोएं, बाहर निकलने पर भीड़ में मॉस्क अवश्य लगाएं।
अच्छी खबर, रिकवरी रेट सुधरी
हाल के दिनों में अच्छी खबर यह है कि अब रिकवरी रेट भी सुधर रहा है। ऐसे में कोरोना की चेन तोड़कर ही इस सुखद खबर को जारी रखा जा सकता है। वर्तमान में राज्य में कोविड की पॉजिटिविटी रेट 1.64% है। इसके अलावा कोविड हॉस्पिटलों में बेड अकुपेंसी भी घटकर 3.66% हो गई है।
वैक्सीनेशन पर जोर देना जरूरी
वरिष्ठ फीजिशियन डॉ.एस.के.सोंथलिया ने कहा कि वैक्सीनेशन ही कोविड के संक्रमण से बचाव में हमारी बड़ी ताकत है। ऐसे में इसे और बढ़ाने पर जोर देना होगा। देखा जा रहा है कि काफी लोग अब भी वैक्सीन लेने से कतरा रहे हैं, हालांकि इससे भय की बात ही नहीं है। अध्ययन में सामने आ रहा है कि वैक्सीन से बड़े पैमाने पर मृत्यु दर रोकी जा सकी है।
इन आंकड़ों पर नजर
तिथि-कोविड पॉजिटिविटी रेट- बेड अकुपेंसी
7 अगस्त-1.64%-3.66%
7-जुलाई-2.08%-6.47%
7-जून- 11.08%-22.55%
(नोट-आंकड़े स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग, पश्चिम बंगाल सरकार)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पहली मुलाकात में प्यार, शादी के महीनों बाद पति को चला पता, पत्नी थी पोर्न स्टार

नई दिल्ली : एक शख्स को पहली नजर में ही एक युवती से प्यार हो गया। दोस्ती रिश्ते में बदल गई और शख्स ने उस आगे पढ़ें »

ऊपर