जब गर्मी की त‌पिश में परछाई ने भी साथ छोड़ा

कोलकाता : गर्मी की तपिश में सब परेशान हैं। भागमभाग वाली जिंदगी में किसी के पास ठहरने का वक्त नहीं है। पारा भी बढ़ता ही जा रहा है। घर-दफ्तर हो या वाहन या फिर पेड़ पौधे सभी अपनी जगह पर मौजूद थे। मगर तपती दोपहर में गायब दिखी सबकी परछाई। जामाई षष्ठी के दिन इस अजीबो गरीब घटना को देख सभी हैरान परेशान थे। खगोल वैज्ञानिक इस घटना को ‘जीरो शैडो डे’ कहते हैं।
परछाई गायब होने की वजह
हम सबने सुना है और जानते भी हैं क‌ि परछाई कभी साथ नहीं छोड़ती है, हमेशा साथ चलती है। मगर वर्ष में दो बार ऐसा भी होता है जब हमारी परछाई कुछ देर के लिए हमारा साथ छोड़ देती है। परछाई न बनने के इस खगोलीय घटनाक्रम को ‘जीरो शैडो डे’ या शून्य छाया दिवस कहते हैं। पृथ्वी के घूर्णन और उसकी सूर्य के चारों ओर की जा रही परिक्रमा के कारण ऐसी घटना होती है।
साल में दो बार होती है यह घटना
पृथ्वी पर कई घटनाएं ऐसी होती हैं जो हमें हैरत में डाल देती हैं। सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण से तो हम परिचित हैं। ‌इन्हीं में से एक घटना है ‘जीरो शैडो डे’। यह एक विशेष समय होता है जब कोई परछाई नहीं बनती है। 5 जून को शहर में शून्य परछाई क्षण होती है। इस दिन विशेष समय पर सूर्य के प्रकाश से कोई परछाई नहीं बनती है। कोलकाता में दोपहर के वक्त कुछ समय के लिए परछाई नहीं बनी। यही घटना दोबारा 7 जुलाई को होगी जिस वक्त कोलकाता में फिर सूर्य ठीक ऊपर होगा और यह दिन वर्ष का दूसरा ‘जीरो शैडो डे’ होगा।
पृथ्वी पर अलग अलग जगहों के लिए इनकी तारीखें अलग-अलग होती हैं। ऐसी हालत में यह कहना गलत नहीं होगा कि अंधेरे में ही नहीं कभी-कभी दिन में भी हमारी परछाई साथ छोड़ देती है।
जीरो शैडो डे क्या है ?
– जीरो शैडो डेज वे दिन होते हैं जब सूर्य पूर्व में उदय होगा और पश्चिम में अस्त होगा।
– यह एक द्विवार्षिक घटना है जब सूर्य बिल्कुल सिर के ऊपर होता है और किसी वस्तु की छाया कुछ मिनटों के लिए गायब हो जाती है।
– जीरो शैडो डे दिन में दो बार किसी खास जगह पर होता है। यह आमतौर पर कर्क रेखा और मकर रेखा के बीच के क्षेत्रों में होता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पीएसी में और एक साल चेयरमैन रहेंगे मुकुल

कोलकाता : पब्लिक अकाउंट कमेटी समेत विधानसभा की 15 कमेटियों की मियाद एक साल के लिए बढ़ा दी गयी है। शुक्रवार को इससे संबंधित प्रस्ताव आगे पढ़ें »

ऊपर