बंगाल चुनाव हिंसा : HC का आदेश, मारे गए युवक का हो DNA टेस्ट

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के दौरान हुई हिंसा में मारे गए BJP कार्यकर्ता से जुड़े केस में कलकत्ता हाईकोर्ट ने आज बड़ा फैसला सुनाया है। कलकत्ता हाईकोर्ट के पांच जजों की बेंच ने चुनावी हिंसा में मृत बीजेपी कार्यकर्ता अभिजीत सरकार का डीएनए टेस्ट कराने का आदेश दिया है। कोर्ट ने 7 दिनों के अंदर रिपोर्ट जमा करने का भी निर्देश दिया है। इससे पहले कलकत्ता हाईकोर्ट ने अभिजीत सरकार के शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने का निर्देश दिया था। कोर्ट ने ये फैसला इसलिए भी दिया है क्योंकि अभिजीत सरकार के भाई बिसवजीत उनके शव को पहचान नहीं सके थे। कोर्ट ने कमांड अस्पताल में डीएनए संपैल लेने और एनालिसिस के लिए सेंट्रल फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (CFSL) कोलकाता भेजने के लिए कहा है।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे के दिन दो मई को कांकुरगाछी के शीतलतला लेन निवासी अभिजीत सरकार का शव बरामद किया गया था। इस मौत के लिए बीजेपी ने टीएमसी पर राजनीतिक हिंसा का आरोप लगाया था। बीजेपी का आरोप है कि विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने अभिजीत को पीटा, जिससे उसकी मौत हो गई।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः राज्य में कोविड के बीच बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस

एक्सपर्ट ने जागरूक रहने की दी सलाह सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोविड काल के बीच अचानक बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस के मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर