चुनाव के मद्देनजर तैनात किए जाएंगे बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में होने वाले विधान सभा चुनाव से पहले चुनाव आयोग के अधिकारियों ने सभी दलों के नेताओं और आला अधिकारियों के साथ मुलाकात की। बैठक में जिलाधिकारी, पुलिस आयुक्त, एसपी, आईजी समेत क्षेत्रीय आयुक्त भी मौजूद थे। बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि, कई दलों ने राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाए हैं, जिसे लेकर चुनाव आयोग संजीदा है और इसके उपाय किए जा रहे हैं। चुनाव आयोग ने कहा कि राज्य में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव कराने को लेकर चर्चा की गई। यह हमारी प्राथमिकता है कि चुनाव शांत माहौल में हो। चुनाव आयोग के मुताबिक, कहा जा रहा है कि यह चुनाव काफी तनाव भरा हो सकता है। कुछ लोग माहौल खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। सांप्रदायिक घटनाएं और उकसाने वाले स्लोगन लगने की भी बातें सामने आ रही है। ऐसे में चुनाव आयोग पूरी एहतियात बरतने की तैयारी में हैं। सीएपीएफ बल की भारी तैनाती की जाएगी। चुनाव आयोग ने कहा कि संवेदनशील इलाकों में वीडियोग्राफी कराई जाएगी।चुनाव आयोग की तरफ से यह भी कहा गया कि जिस राज्य में चुनाव होगा वहां के रहने वाले अधिकारियों की तैनाती उन राज्यों में नहीं की जाएगी। वोटर लिस्ट की गड़बड़ियों को लेकर चुनाव आयोग ने कहा कि हमारे कर्मचारी इसपर विस्तार से काम कर रहे हैं। चुनाव आयोग ने कहा कि जिस दिन तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और असम में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा, उस दिन हम स्पेशल ऑब्जर्वर्स भेजेंगे। हम जल्द ही बता देंगे कि किसी जिले में किस ऑब्जर्वर की तैनाती है और लोग अपनी शिकायतों को लेकर उनसे कब मुलाकात कर सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में भाजपा का डबल इंजन कभी शुरू नहीं होगी : तृणमूल

कोलकाता : केंद्र और राज्य में एक ही पार्टी की सरकार होने से पश्चिम बंगाल में विकास की रफ्तार तेज हो जाने के दावे को आगे पढ़ें »

शनि देव का शनिवार को अभिषेक करने से तुरंत होती है मनोकामना पूरी

कोलकाता : शनि देवको सभी ग्रहों में निष्पक्ष और न्याकारी ग्रह माना जाता है। अगर किसी के ऊपर शनि देव की कृपा दृष्टि पड़ जाये आगे पढ़ें »

ऊपर