चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ धरने पर बैठीं ममता बनर्जी

कोलकाताः विवादित बयानों की वजह से चुनाव आयोग द्वारा ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर लगाए गए प्रतिबंध के खिलाफ उन्होंने मंगलवार को धरना शुरू किया। ममता बनर्जी ने मेयो रोड स्थित गांधी मूर्ति के सामने धरना शुरू किया है। हालांकि सेना ने धरना की अनुमति नहीं दी है। ममता बनर्जी ने सेना की अनुमति के बिना ही धरना शुरू किया। बता दें कि चुनाव आयोग ने सोमवार सुबह आठ बजे से मंगलवार रात आठ बजे तक ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी थी। इसके खिलाफ ममता बनर्जी ने धरना देने की घोषणा की थीं।

बता दें कि सुबह 9.40 बजे टीएमसी कांग्रेस ने सेना को पत्र लिखकर धरना के लिए अनुमति मांगी थी, लेकिन सेना की ओर से कहा गया है कि इतने कम समय में धरना की अनुमति देना संभव नहीं है, लेकिन ममता बनर्जी पूर्व घोषित अपराह्न 12 बजे के पहले ही दोपहर साढ़े 11.30 बजे ही धरना स्थल पर पहुंच गईं और धरना शुरू किया है।

टीएमसी नेता लगातार उठा रहे हैं सवाल

सत्तारूढ़ पार्टी के नेता लगातार आयोग के फैसले पर सवाल खड़ा कर रहे हैं। दिलीप घोष, राहुल सिन्हा और भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेताओं के बयानों का जिक्र करते हुए बीरभूम के जिला तृणमूल अध्यक्ष अणुब्रत मंडल ने कहा कि भाजपा के लिए चुनाव आयोग धृतराष्ट्र बन गया है। पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि चुनाव आयोग का फैसला अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक है। आयोग पक्षपातपूर्ण बर्ताव कर रहा है। बीजेपी के नेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीबीआई कोर्ट में सुनवाई पूरी, ममता बनर्जी बोलीं- अब अदालत में ही होगा फैसला

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक बार फिर उथल-पुथल शुरू हो गई है। सीबीआई की ओर से टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) के दो मंत्रियों आगे पढ़ें »

मुंबई में 114 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चली आंधी, एयरपोर्ट छह बजे तक बंद

नई दिल्ली : देश के दक्षिण पश्चिम राज्यों में चक्रवाती तूफान ताउते का खतरा मंडरा रहा है। अब ये तूफान गुजरात की ओर से बढ़ आगे पढ़ें »

ऊपर