कोविड से हुए ठीक, अब सता रही थकान

पोस्ट कोविड क्लि‌निकों में पहुंच रहे मरीज
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस महामारी में कोविड से उबरने के बाद कई समस्याओं से लोग रूबरू हो रहे हैं। देखा जा रहा है कि काफी लोग ‌विभिन्न परेशानियों का सामना कर रहे हैं। इसमें यह भी नजर आ रहा है कि कुछ लोगों को हल्का काम करने के बाद ही थकान हो रही है। साथ ही कुछ को सांस लेने की शिकायत, तो कुछ को दिल का नया रोग लग रहा है। ऐसे में ज्यादातर अस्पतालों ने ही पोस्ट कोविड क्लिनिक की शुरुआत की है। इसमें सरकारी से लेकर निजी अस्पताल भी शामिल हैं। सुपर्णा सेनगुप्ता, सीईओ, नारायण मेमोरियल हॉस्पिटल ने कहा कि हमने चेस्ट रिहैबिलिएटेशन सेंटर खोला। इसमें पोस्ट कोविड के मरीज पहुंच रहे हैं। इसमें थकान, सांस लेने में दिक्कत सहित अन्य समस्या को लेकर मरीज पहुंच रहे हैं। बेलियाघाटा आईडी हॉस्पिटल ने भी कोविड की शुरुआत के बाद पोस्ट कोविड क्लिनिक खोला था। इसके बाद से ही अन्य अस्पतालों में भी ऐसे मरीज आने लगे।
कोविड से उबरने के बाद हो बदलाव तो जागरूक रहें, लें चिकित्सकीय परामर्श
डॉ.श्यामाशिष बंद्योपाध्याय, अपोलो ग्लिनिगल्स हॉस्पिटल, कोलकाता के कंसलटेंट व मेडिकल डॉयरेक्टर ने कहा कि इस बात के सबूत मिल रहे हैं कि कोविड-19 से ठीक होने के बाद लोगों में थकान, गांठ में दर्द, सिर दर्द, मांसपेशियों में समस्या सहित अन्य प्रभाव हो रहे हैं। य‌दि ऐसी परेशानी आए तो लोगों को सतर्क रहकर इलाज करवाना चाहिए। कोविड से ठीक होने के बाद भी शरीर के दूसरे अंगों में होने वाले बदलाव को लोग हल्के में नजरअंदाज न करें, बल्कि ज्यादा वक्त तक बदलाव बने रहने पर डॉक्टरों की सलाह जरूर लें।
यह परेशानी आ रही सामने
थकान, गांठ में दर्द, सिर दर्द, मांसपेशियों में समस्या, अचानक भूलने की परेशानी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

नदिया में ब्लैकमेल कर लगातार एक माह दुष्कर्म, गिरफ्तार युवक

नदियाः अश्लील वीडियो के बल पर महिला को ब्लैकमेल कर लगातार एक माह से बलात्कार कर रहे युवक को गिरफ्तार कर रविवार को पुलिस ने आगे पढ़ें »

ऊपर