कोलकाता व हावड़ा निगम चुनाव में वीवीपैट का नहीं होगा व्यवहार

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन या ईवीएम के जरिए चुनाव कोई नई बात नहीं है। कोलकाता और हावड़ा नगर निगम के चुनावों की तिथि कभी भी घोषित हो सकती है। इस दौरान भी ईवीएम के व्यवहार किए जाने की बात निश्चित है। राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि इस बार भी निगम चुनाव ईवीएम के जरिए होंगे। चर्चा थी कि पश्चिम बंगाल में पहली बार किसी नगर निगम के चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) के साथ किया जा सकता था। हालांकि आयोग सूत्रों ने इससे इनकार किया है। 19 दिसंबर को कोलकाता और हावड़ा नगर निगम के चुनाव की संभावना है। आयोग पहले ही राज्य के नगर एवं शहरी विकास विभाग को लिखे पत्र में अपनी सहमति दे चुका है। राज्य चुनाव आयोग ने प्रारंभिक चरण की तैयारी के लिए शुक्रवार को हावड़ा और दक्षिण 24 परगना के जिले के प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की। सूत्रों के मुताबिक, ईवीएम में वीवीपैट इस्तेमाल की चर्चा हुई है। कोलकाता और हावड़ा में नई तकनीक एम-3 टाइप मशीन पर वोट करवाए जाने पर चर्चा भी हुई थी। हालांकि सूत्रों की मानें तो इससे इनकार किया गया है। ऐसे में एम-2 टाइप मशीन से ही चुनाव करवाए जाएंगे। दरअसल वीवीपैट पुष्टि करता है कि मतदाता ने किस उम्मीदवार को वोट दिया है। साथ ही मतदान प्रक्रिया की पारदर्शिता पर कोई सवाल नहीं उठता है। पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने राज्य के सभी बूथों पर वीवीपैट का इस्तेमाल किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज इस विधि से करें सूर्य देव की पूजा, होंगे लाभ

कोलकाताः रविवार का दिन सूर्य देव की पूजा स्तुति को समर्पित है। अगर आपके मन में कई सारी इच्छाएं और मनोकामनाएं है तो आप रविवार आगे पढ़ें »

ऊपर