विश्व भारती यूनिवर्सिटी में मचा बवाल, आंदोलनकारी छात्रों ने तोड़ा कुलपति के घर का दरवाजा

कोलकाता : बीरभूम  जिले में गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर द्वारा स्थापित ऐतिहासिक विश्व भारती विश्वविद्यालय के कुलपति विद्युत चक्रवर्ती के घर का मेन गेट तोड़कर आंदोलनकारी अंदर घुस गए हैं। अपने जीवन का खतरा देखकर उन्होंने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को एसओएस मैसेज भेजा और तत्काल सुरक्षा की मांग की जिसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। आरोप है कि वामपंथी छात्र संगठनों से जुड़े आंदोलनकारियों ने जानबूझकर ऐसा किया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  ने विद्युत चक्रवर्ती की गिरफ्तारी की मांग की थी इसलिए आरोप लग रहे हैं कि संवैधानिक नियमों के विपरीत कुलपति के घर के अंदर आंदोलनकारियों के घुस जाने के बावजूद पुलिस सक्रियता नहीं बरत रही और जानबूझकर उन पर हमले के लायक माहौल बनाया जा रहा है।

बता दें कि ताजा विवाद विश्वविद्यालय परिसर में 12वीं के छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत को लेकर है। असीम दास नाम के छात्र की मौत के बाद शुक्रवार को उसके माता-पिता कुलपति के घर के बाहर धरने पर बैठे थे लेकिन मुलाकात नहीं हुई, जिसके बाद छात्र संगठनों ने आंदोलन तेज कर दिया और देर रात कुलपति के घर का मेन गेट तोड़ दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शादी का वादा कर प्रेमिका से किया दुष्कर्म, पहुंचा जेल, बाहर निकलने पर दोबारा किया दुष्कर्म

गोल्फग्रीन इलाके की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शादी का वादा कर प्रेमिका से दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया। जेल आगे पढ़ें »

ऊपर