विश्वभारती : मामूली अपराध के लिए छात्र-छात्राओं को बड़ी सजा

आज से शुरू होगा पठन-पाठन, छात्र-छात्राओं की बर्खास्गी पर रोक
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : विश्वभारती विश्वविद्यालय के वीसी की तीखी आलोचना करते हुए हाई कोर्ट ने कहा कि बहुत ही मामूली अपराध के लिए तीन छात्र-छात्राओं को बेहद सख्त सजा दी गई है। अगर यह सजा बहाल रही तो उनका करियर ही बर्बाद हो जाएगा। हाई कोर्ट के जस्टिस राजाशेखर मंथा ने बुधवार को यह टिप्पणी करते हुए कहा कि विश्वभारती विश्वविद्यालय में वृहस्पतिवार को पठन-पाठन का कार्य शुरू किया जाए। इसके साथ ही विश्वविद्यालय के एडवोकेट को सलाह दी कि वे वीसी से कहे कि बिला वजह विवादित बयान नहीं दिया करें।
जस्टिस मंथा ने कहा कि तीनों निष्काषित छात्र-छात्राएं अपनी अकादमिक गतिविधियां वृहस्पतिवार से शुरू करेंगे। अपने आदेश में कहा है कि उनके अपराध के मुकाबले उन्हें बहुत ही सख्त सजा दी गई है। उनके निष्काषन का आदेश फिलहाल स्थगित रहेगा। जस्टिस मंथा ने कहा है कि प्रोफेसरों और अध्यापकों सहित सभी विश्वविद्यालय के वीसी के तथाकथित सख्त रवैये के खिलाफ हैं। विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और अध्यापक कानून के मुताबिक निलंबन के आदेश को चुनौती दे सकते हैं। जस्टिस मंथा ने आदेश दिया है कि विश्वविद्यालय के अंदर और बाहर छात्र-छात्राओं और अन्य द्वारा किये जा रहे सभी प्रदर्शन, धरना, आंदोलन और हड़ताल को तत्काल प्रभाव से बंद करना पड़ेगा। जस्टिस मंथा ने विद्यार्थियों को सलाह दी है कि किसी भी मतादर्श को स्वीकार या अनुकरण करने से पहले उनके अंदर एक हद तक समझदारी और उसके बारे में जानकारी होनी चाहिए। एडवोकेट अरुणाभ घोष को आदेश दिया कि प्रोफेसरों और अध्यापकों को पार्टी बनाने के लिए एप्लिकेशन दायर किया जाए। एडवोकेट विकास रंजन भट्टाचार्या ने छात्र-छात्राओं की पैरवी करते हुए कहा कि उनके साथ बेहद कठोर बर्ताव किया गया है। जस्टिस मंथा ने अपने आदेश में कहा है कि छात्र-छात्राओं के खिलाफ आरोप है कि उन्होंने इकॉनामिक्स बिल्डिंग के एक प्रोफेसर के कक्ष पर लगी सील को तोड़ दिया था। ‌इसकी जांच के लिए एक विशेष जांच कमेटी बनायी गई थी। उसने उन्हें तीन साल के लिए निष्काषित करने की सजा सुनायी जो कि अपराध के मुकाबले अत्याधिक है। उन्होंने आदेश दिया है कि विश्वविद्यालय के पास आंदोलन के लिए बनाए गए सभी ढांचो व प्लेटफार्म को हटा दिया जाए। जस्टिस मंथा ने विश्वविद्यालय में बेहतर माहौल बनाने में सभी से सहयोग करने की अपील की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अंतिम रविवार के प्रचार में भाजपा ने भवानीपुर में झोंकी ताकत

मनोज तिवारी और शुभेंदु अधिकारी ने संभाला मोर्चा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : रविवार को भवानीपुर में अंतिम रविवार के चुनाव प्रचार के दिन भाजपा ने अपनी ताकत आगे पढ़ें »

ऊपर