छात्रों के लिए खुशखबरी : सोमवार से अमेरिका के लिए विजा इंटरव्यू की शुरुआत

फेसबुक लाइव में की गयी घोषणा
कोलकाता : कोलकाता सहित देश के विभिन्न हिस्सों से यूएसए जाने की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए खुशखबरी है। अब यहां के छात्र अमेरिका में पढ़ने के लिए जा पाएंगे। यूएसए की ओर से कोलकाता कांसुलेट से अब छात्रों के लिए विजा इंटरव्यू की शुरुआत 14 जून यानी कि सोमवार से शुरू की जा रही है। इसकी जानकारी फेसबुक लाइव के दौरान अमेरिकी कांसुलर अफेयर्स के मिनिस्टर काउंसलर डॉन हेफ्लिन ने दी। गुरुवार की दोपहर 2 बजे से यूएस कांसुलेट जनरल कोलकाता व यूएस इम्बेसी के फेसबुक पेज पर अमेरिकी दूतावास के मुख्य विजा अधिकारी डॉन हेफ्लिन के लाइव चैट के दौरान लगभग 15 हजार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। इनमें कोलकाता के अलावा, मुम्बई, दिल्ली, हैदराबाद व चेन्नई के छात्र व उनके माता-पिता ने विजा से संबंधित सवाल पूछे। उन्होंने कहा कि छात्र वीजा एफ 1 के साथ हजारों वीजा नियुक्ति स्लॉट 14 जून को खोले जाएंगे। उल्लेखनीय है कि हजारों की संख्या में छात्र इसका इंतजार कर रहे हैं। अमेरिका के अलग-अगल यूनिवर्सिटीज में इन छात्रों का दाखिला हो चुका है। इनके सेशन्स जुलाई व अगस्त से शुरू होने वाले हैं लेकिन अब तक इन्हें विजा नहीं मिला, इस कारण वे काफी चिंचित थे। इस बारे में वंशिका टिबरेवाल ने कहा कि अब हमें चैंन आया है। सबके चेहरों पर मुस्कान आयी है। वहीं छात्र रंजीत हल्दर ने कहा कि अब हमने राहत की सांस ली है। अब हम अपनी पढ़ाई अमेरिका में जाकर कर पाएंगे।
10 हजार से अधिक का विजा इंटरव्यू का स्लॉट खोला जाएगा
इस बारे में डॉन हेफ्लिन ने कहा कि 10 हजार से अधिक का विजा इंटरव्यू का स्लॉट खोला जाएगा। उल्लेखनीय है कि सन्मार्ग ने बुधवार के अंक में छात्रों की इस समस्या को उजागर किया था कि कैसे हजारों डॉलरों को खर्च करने के बावजूद छात्र अमेरिका जाने से महरूम हो रहे हैं, वह भी सिर्फ विजा के कारण। हजारों डॉलर खर्च कर स्टूडेंट्स लोन लेकर भी अमेरिका हुआ दूर रिपोर्ट छापी गयी थी। छात्रों को वीजा में देरी के कारण उन्हें यह डर सता रहा था कि कहीं उनका दाखिला बेकार न हो जाए। विदेशी विश्वविद्यालय में अगस्त-सितंबर से शैक्षणिक पाठ्यक्रम शुरू होने वाले हैं। अल्का राठी बागरी के मुताबिक उनकी बेटी यूएसए में पढ़ाई करने जाने वाली है। अब तक सबकी सांसे अटकी थी। अब जाकर छात्रों को राहत मिली है। हेफ्लिन ने कहा, “हम हजारों वीजा नियुक्ति स्लॉट खोलेंगे। सोमवार 14 जून को सुबह के ऑफिसयल आवर्स के दौरान यह उपलब्ध रहेंगे। ये बल्क स्लॉट नई दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद और कोलकाता में सभी पांच अमेरिकी वीजा जारी करने वाले कार्यालयों में एक ही समय में खोले जाएंगे। छात्र अपने नजदीकी केंद्र में अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। यूएसए में विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों में अध्ययन करने की योजना बना रहे भारत के विभिन्न हिस्सों में रह रहे छात्रों को वीजा (व्यक्तिगत साक्षात्कार) और बायोमेट्रिक्स अपाइंटमेंट के लिए परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसकी मुख्य वजह यह है कि अमेरिकी वाणिज्य दूतावास और दूतावास कार्यालय या तो बंद थे या सीमित स्टाॅफ के साथ इमरजेंसी वाले मामलों पर काम कर रहे थे।
फिलहाल माता-पिता नहीं जा पाएंगे साथ में
हेफ्लिन ने कहा जो माता-पिता अपने छात्रों के साथ जाना चाहते हैं, उन्हें वीजा नहीं दिया जाएगा। उन्होंने सलाह देते हुए कहा कि कई प्रयासों के कारण सिस्टम से लॉक होने से रोकने के लिए, छात्रों को कई बार रिफ्रेशिंग स्लॉट से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम पूरे भारत में पर्याप्त स्लॉट खोलेंगे ताकि छात्रों को निकटतम केंद्र में एक स्लॉट मिल सके और उन्हें कोविड -19 के दौरान यात्रा करने की आवश्यकता न हो। छात्रों को स्लॉट को कई बार रीफ्रेश नहीं करना चाहिए, लेकिन धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करें क्योंकि कई स्लॉट खुले होंगे। हेफ़लिन ने आगे कहा, “1 जुलाई और 1 अगस्त से कुछ समय पहले 14 जून को बल्क स्लॉट खोले जाएंगे ताकि जो छात्र अमेरिका के विश्वविद्यालयों में 1 अगस्त के बाद से शुरू होने वाले शैक्षणिक पाठ्यक्रम से पहले पहुंच पाएं। उन्हाेंने कहा कि हम छात्र वीजा के लिए सभी स्लॉट में से लगभग 1/3 खोलेंगे। हम केवल आपात स्थिति के लिए आरक्षित में 25 प्रतिशत स्लॉट बचा रहे हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

बॉर्डर को-ऑर्डिनेशन कॉन्फ्रेंस का शुभारंभ

कोलकाता : भारत–बांग्लादेश की सीमा सुरक्षा बलों के बीच 6 महीने में एक बार होने वाली तीन दिवसीय महानिरीक्षक सीमा सुरक्षा बल - रीजन कमांडर आगे पढ़ें »

राज्यों को बांटने की बात कर 2024 का ब्लू प्रिंट तैयार कर रही भाजपा : अधीर

पीके मेरे भाग्य विधाता नहीं सन्मार्ग संवाददाता मुर्शिदाबाद : प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार को बहरमपुर में कांग्रेस पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं को संबोधित आगे पढ़ें »

ऊपर